Headline



राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंंप ने अपने भाषण के दौरान भारतीय खेल और सिनेमा से जुड़े कई नाम लिए

Medhaj News 24 Feb 20 , 06:01:40 India
trump22.png

अमेरिका का राष्ट्रपति बनने के बाद डोनाल्ड ट्रंंप (Donald Trump) पहली बार भारत आए हैं | अहमदाबाद के मोटेरा स्टेडियम (Motera Stadium) में अपने भाषण के दौरान उन्होंने भारत के साथ अमेरिकी संबंधों पर कई बातें कहीं | इसी दौरान उन्होंने भारतीय खेल और सिनेमा से जुड़े कई नाम लिए | उन्होंने सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar), विराट कोहली (Virat Kohli), दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे (Dilwale Dulhaniya Le Jayenge) और शोले (Sholay) का नाम लिया |






  • पहली बार किसी अमेरिकी राष्ट्रपति ने भारत के क्रिकेट लीजेंड सचिन तेंदुलकर का नाम अपने भाषण में लेते हुए उनकी तारीफ की | उन्होंने क्रिकेट के भगवान माने जाने वाले सचिन क्रिकेट का चैंपियन बताया | सचिन ने वर्ष 2013 में क्रिकेट से संन्यास लिया था लेकिन तब वो इतिहास बना चुके थे | उन्होंने इंटरनेशनल क्रिकेट में शतकों का शतक लगाया और टेस्ट व वन-डे को मिलाकर इंटरनेशनल क्रिकेट में 30,000 से ज्यादा रन बनाए | वो वन-डे क्रिकेट में दोहरा शतक लगाने वाले पहले क्रिकेटर थे | सचिन ने 1989 में महज 16 की उम्र में इंटरनेशनल क्रिकेट में अपना करियर शुरू किया था | बाद में वो भारतीय टीम की रीढ़ बन गए |

  • विराट भारतीय क्रिकेट टीम के मौजूदा कप्तान हैं | उनकी जबरदस्त बैटिंग ने पूरे देश को उनका दीवाना बनाकर रखा हुआ है | विराट का जन्म दिल्ली के एक साधारण परिवार से हुआ लेकिन अपने टैलेंट के बल पर वो भारतीय टीम का हिस्सा बने | अब वो भारतीय टीम के अकेले ऐसे क्रिकेटर हैं, जिनका बल्ला टेस्ट, वन-डे और टी20 क्रिकेट में जबरदस्त चलता है | उन्होंने क्रिकेट के इन फारमेट में ना जाने कितने रिकॉर्ड रच दिए हैं | माना जाता है कि अगर वो क्रिकेट खेलते रहे तो बैटिंग के सारे रिकॉर्ड उनके नाम होंगे |

  • शोले फिल्म को भारतीय सिनेमा में कल्ट मूवी का स्थान हासिल है | 1975 रिलीज हुई इस फिल्म ने सफलता के सारे कीर्तिमान ध्वस्त कर दिए थे | ये वो फिल्म थी जिससे अमिताभ बच्चन को वो नाम मिला जिससे आगे चलकर वो भारतीय सिनेमा के महानायकों में गिने जाते हैं | शोले ही शायद वो फिल्म है जिसके मुख्य विलेन का किरदार देश में सबसे ज्यादा मशहूर है | गब्बर सिंह के किरदार में अदाकार अमजद खान ने विलेन के रोल को नई परिभाषा दी थी | इस फिल्म में बोले गए गब्बर सिंह के कई डायलाग रिलीज के 45 साल बाद भी भारतीय आम जनमानस की जुबान पर रहते हैं |


    Comments

    Leave a comment



    Similar Post You May Like

    Trends