पीयूष गोयल ने Quora पर दिया बुलेट ट्रेन विरोधियों को जवाब, कहा ‘भारत में चलनी चाहिए बुलेट ट्रेन’

Medhaj News 14 Nov 17 , 06:01:37 India
piyush_goyal.jpg

गोयल ने मुंबई-अहमदाबाद हाई स्‍पीड रेल परियोजना (बुलेट ट्रेन प्रोजेक्‍ट) का बचाव किया और इस योजना का विरोध कर रहे लोगों को जवाब दिया। रेल मंत्री पीयूष गोयल सोशल मीडिया पर काफी सक्रिय रहते हैं। ऐसे में उनसे ऑनलाइन सवाल पूछने और जवाब एकत्रित करने वाली वेबसाइट 'Quora' पर बुलेट ट्रेन को लेकर सवाल पूछा गया था कि ‘क्या देश को वाकई बुलेट ट्रेन की जरूरत है।’

उन्होंने सवाल का जवाब देते हुए कहा कि यह देश के विकास योजना का हिस्सा है और भारत तेजी से विकास करती अर्थव्यवस्था है और इसकी कई विकास संबंधी आवश्यकताएं हैं। भारत की विकास योजना का प्रमुख घटक यह है कि मौजूदा रेल नेटवर्क को अपग्रेड किया जाए। साथ ही में हाई स्‍पीड रेल गलियारे का विकास किया जाए जिसे बुलेट ट्रेन के तौर पर जाना जाता है। इसके साथ ही उन्होंने कुछ ग्राफिक्स और PM  Narendra modi की तस्वीरें भी साझा की।

पहले भी हो चुका है विरोध

रेल मंत्री ने बताया कि वर्ष 1968 में राजधानी ट्रेनों को शुरू करने का प्रस्ताव दिया गया था और तब इसका विरोध रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष समेत कई लोगों ने किया था। पीयूष गोयल ने कहा कि नई प्रौद्योगिकी को कई बार विरोध का सामना करना पड़ता है और नई प्रौद्योगिकी देश की प्रगति के लिए काफी फायदेमंद होती है।

बुलेट ट्रेन विरोधियों को दिया जवाब

रेल मंत्री पीयूष गोयल ने उन लोगों पर निशाना साधते हुए कहा कि जो लोग बुलेट ट्रेन का विरोध कर रहे है। उन्हें जनता को जवाब देना चाहिए कि क्या वो जनता को पीड़ित असुरक्षित रखना चाहते हैं।  ये लोग क्या अब भी 100 साल पुलिस टेक्नोलॉजी में यकीन करते हैं। उन्होंने कहा कि यह कोई बहाना नहीं है लेकिन इंडियन रेलवे में समस्याएं 1-2 साल पुरानी नहीं है। ये समस्याएं सालों से जुड़ती चली आ रही हैं और 2014 में हमें विरासत में मिली थीं।

BJP की सहयोगी शिवसेना भी कर रही है विरोध  

इस मुद्दे पर कई विपक्षी दलों समेत केंद्र और महाराष्‍ट्र सरकार में भारतीय जनता पार्टी (BJP) की सहयोगी शिवसेना बुलेट ट्रेन परियोजना का विरोध कर रही है. महाराष्‍ट्र नवनिर्माण सेना(मनसे) नेता राज ठाकरे ने विरोध करते हुए अपने मुखपत्र 'सामना' में बुलेट ट्रेन को लूट और ठगी बताया और कहा कि जमीन-पैसा महाराष्ट्र और गुजरात का लगे और मुनाफा जापान कमाए और भूमिपुत्रों को नौकरी देने का विरोध भी जापानी कंपनी ने किया है।

बता दें, कि भारत में बुलेट ट्रेन, जापान की मदद से तैयार होगी और इसके लिए जापानी कंपनी कील से लेकर ट्रैक और तकनीक सब कुछ अपने देश से लाने वाली है और मजदूर भी जापान से आएंगे।

 

    मेधज न्यूज़ के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक करें। आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं।

    ...
    loading...

    Similar Post You May Like