कोल इंडिया को ई-नीलामी से हुआ 369 करोड़ रूपये का मुनाफा

Medhaj News 13 Nov 17 , 06:01:37 Business & Economy
coal_ennergy.jpg

विश्व की सबसे बड़ी कोयला खनन कंपनी कोल इंडिया ने 30 सितंबर को समाप्त दूसरी तिमाही में 368.88 करोड़ रुपये का मुनाफा दर्ज किया जबकि इसकी बिक्री 17,478.52 करोड़ रुपये रही। पिछले साल की समान अवधि में इसका शुद्ध लाभ व शुद्ध आय क्रमश: 612.44 करोड़ रुपये व 16,788.36 करोड़ रुपये रही था। कोल इंडिया ने कहा है कि GST के क्रियान्वयन के चलते नतीजे की तुलना नहीं की जा सकती।

थर्मल कोयले का भी बढा उत्पादन-

थर्मल कोयले की मांग में सुधार हुआ है और कंपनी का उत्पादन 8.3 फीसदी बढ़कर 11.30 करोड़ टन पर पहुंच गया, जो पिछले साल की समान अवधि में 10.43 करोड़ टन रहा था। बिक्री साल दर साल के हिसाब से 13.56 फीसदी की उछाल के साथ 13.15 लाख टन रही। ई-नीलामी और लंबी अवधि के र्ईंधन आपूर्ति समझौते के तहत बिक्री से मिलने वाली औसत कीमत मजबूत रही। थर्मल पावर प्लांट के लिए कोयले की औसत बिक्री कीमत 23 रुपये बढ़कर 1,224 रुपये प्रति टन हो गई जबकि ई-नीलामी की कीमतें उच्च मांग के चलते 1,614 रुपये प्रति टन रही।

अधिकारियों व अन्य कर्मचारियों के वेतन में संशोधन के चलते कोल इंडिया ने जुलाई-सितंबर की अवधि के लिए कुल 2,396 करोड़ रुपये का प्रावधान किया ताकि निकट भविष्य में ज्यादा खर्च को पूरा किया जा सके।

 

    मेधज न्यूज़ के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक करें। आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं।

    ...
    loading...

    Similar Post You May Like