बोकारो: बिजली सप्लाई पर दिखा कोयले की कमी का असर, छाएगा बिजली संकट

Medhaj News 9 Nov 17 , 06:01:37 Business & Economy
Bokaro_news.jpg

कोयले की कमी का असर शहर की बिजली सप्लाई पर पड़ने लगा है। BPSCL (Bokaro power supply company LTD.)  कोयले की कमी से पिछले 6 महीने में उत्पादन लक्ष्य हासिल नहीं कर पाया है, जिसका असर शहर की बिजली सप्लाई और बोकारो स्टील प्लांट पर पड़ रहा है।

बता दें, कि फिलहाल BPSCL के पास 4 दिन का कोयला स्टॉक बचा है। जिसको लेकर प्लांट के अधिकारी लगातार कोयले की पर्याप्त आपूर्ति को लेकर कोल कंपनियों से संपर्क कर रहे है।

कितना कर रहा है उत्पादन

BPSCL को प्रतिदिन 200 मेगावॉट बिजली उत्पादन के लिए 5500 टन कोयले की जरूरत पड़ती है। लेकिन कोयले की कमी के चलते प्रतिदिन मात्र 4 हजार टन कोयले का इस्तेमाल करके 110-130 मेगावॉट बिजली का उत्पादन हो रहा है। जिसके कारण बिजली उत्पादन में लगातार कटौती हो रही है।

हालांकि अब तक BPSCL प्रबंधन ने कोयला संकट को लेकर गंभीरता नहीं दिखाई है। इससे बिजली की समस्याएं उत्पन्न हो रही है। अगर इसकी कोई वैकल्पिक व्यवस्था नहीं की गई, तो कंपनी के लिए समस्या उत्पन्न हो जाएगी। बोकारो स्टील प्लांट ने लक्ष्य के अनुरूप उत्पादन करने के लिए बिजली की खपत बढ़ा दी है। ऐसे में प्लांट को सभी यूनिटों को लगातार चालू रखने के लिए पर्याप्त बिजली की आवश्यकता हो रही है।

 

    मेधज न्यूज़ के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक करें। आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं।

    ...
    loading...

    Similar Post You May Like