सरकार ने 17 वस्तुओं पर इंपोर्ट ड्यूटी 10 से 20% तक बढ़ाई

Medhaj news 12 Oct 18 , 06:01:38 Business & Economy
Customs_Duty_Import_Duty.jpg

व्यापार घाटे और डॉलर के मुकाबले लगातार गिरते रुपये को देखते हुए सरकार ने गुरुवार को संचार के कुछ सामानों पर ड्यूटी 10 फीसदी से 20 फीसदी कर दी है | प्रिंटर सर्किट बोर्ड असेंबली (पीसीबीए) जैसे संचार उपकरणों पर ड्यूटी 10% बढ़ाई गई है।सरकार ने स्थानीय निर्माताओं के लिए संचार उपकरणों में इंपोर्टेड इलेक्ट्रॉनिक गुड्स के इस्तेमाल पर भी रोक लगा दी है।इससे पहले 26 सितंबर को सरकार ने 19 सामानों पर इंपोर्ट ड्यूटी बढ़ाई थी और उसके बाद से ये लगातार दूसरी बार बढ़ोतरी की जा रही है | पिछली बार जिन सामानों पर आयात ड्यूटी सरकार ने बढ़ाई थी उनमें फ्रिज, एसी जैसे उत्पादन शामिल थे | वहीं इस बार जिन सामानों पर बेसिक कस्टम ड्यूटी बढ़ाई है उनमें कई ऐसे सामान हैं जो इलेक्ट्रानिक और मोबाइल कम्यूनिकेशन में काम आते हैं | सरकार ने मोबाइल फोन को असेंबल करने वाले सर्किट बोर्ड पर मिलने वाली छूट को भी हटा दिया है | माना जा रहा है कि गैर जरूरी उत्पादनों के आयात को रोकने के लिए सरकार ने ये कदम उठाया है |





चालू खाते के घाटे को कम करने और रुपए में गिरावट को थामने की कोशिश में सरकार ने यह कदम उठाया। अप्रैल-जून में चालू खाता घाटा जीडीपी का 2.4% तक हो गया। डॉलर के मुकाबले रुपए में लगातार गिरावट आ रही है। यह 74 के ऊपर बना हुआ है।


    Comments

    Leave a comment


    Similar Post You May Like