Headline



EPFO के इन दो नए बदलावों से नौकरीपेशा लोगों को होने वाला है फायदा

Medhaj News 23 Jan 20 , 06:01:40 Business & Economy
epfo.jpg

केंद्र सरकार ने अपने कर्मचारी भविष्य निधि (EPF) में दो जबरदस्त बदलाव किए हैं | कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (Employees' Provident Fund Organisation) के इन दो नए बदलावों से नौकरीपेशा लोगों को फायदा होने वाला है | पहली अच्छी खबर ये है कि अब आप अपने पीएफ में 2-3 प्रतिशत अंशदान घटा सकते हैं | दूसरा, अब आप आपने नौकरी छोड़ने की तारीख खुद दर्ज कर सकते हैं | श्रम मंत्रालय (Labour Ministry) के अधिकारी ने बताया कि 25 से 35 साल की उम्र वाले कामकाजी महिलाएं, विकलांग प्रोफेशनल व नौकरीपेशा पुरुष के प्रोविडेंड फंड में अंशदान घटा सकने के कदम पर विचार हो रहा है | मंत्रालय 2-3 फीसदी कम पीएफ कंट्रिब्यूशन की इजाजत के जल्द मंजूरी दे सकता है |





मौजूदा नियमों के तहत कर्मचारियों को अपनी बेसिक सैलरी का 12 फीसदी हिस्सा अनिवार्य रूप से कर्मचारी प्रोविडेंट फंड के तहत देना होता है | इतनी ही रकम उनके नियोक्ता की ओर से जमा किया जाता है | इस नए कदम के लागू होन से कर्मचारियों की इन-हैंड सैलरी ज्यादा हो जाएगी | अधिकारी का कहना है कि सरकार जल्द इस पर फैसला ले सकती है | मंत्रालय ने कर्मचारियों के हितों को ध्यान में रखते हुए एक और फैसला लिया है | अब कोई भी नौकरीपेशा पीएफ खाताधारक ऑनलाइन नौकरी छोड़ने की तारीख खुद दर्ज कर सकेगा | नौकरी छोड़ने के बाद तारीख दर्ज का फायदा यह है कि बाद में अगर आप पीएफ में जमा रकम किसी कारण से निकालना चाहते हैं तो कोई समस्या नहीं होगी | अभी तक नौकरी छोड़ने के बाद उसकी तारीख दर्ज कराने के लिए कंपनी पर निर्भर रहना पड़ता था |  


    Comments

    Leave a comment



    Similar Post You May Like

    Trends