कर्नाटक में मुक्त एवं निष्पक्ष चुनाव होने के लिए विमानों की हुई चेकिंग

medhaj news 4 Apr 18,15:55:38 Election
rahul_and_amit.jpg

पिछले दिनों गोरखपुर और फूलपुर चुनाव में हार मिलने का बाद भाजपा ने अपनी चुनावी तैयारी ज़ोरो पर चालू कर रखी है ,जिसके चलते दोनों ही विपक्ष पार्टियों ने अपनी तैयारिओं को पूरा करने में लगे है | कर्नाटक में 12 मई को विधानसभा चुनाव होने वाले हैं, इसके लिए भाजपा और कांग्रेस के नेता चुनाव प्रचार में कोई कसर नहीं छोड़ रहे हैं। मंगलवार को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और भारतीय जनता पार्टी अध्यक्ष अमित शाह के विमानों की चुनाव आयोग की अधिकारियों ने तलाशी ली गई। ये दोनों नेता कर्नाटक में चुनाव प्रचार करने आए थे हुबली हवाई अड्डा पर उतरने के बाद मंगलवार को चुनाव आयोग के अधिकारियों ने इन विमानों की तलाशी ली। इस तलाशी अभियान में जिला स्तर के तीन अधिकारी शामिल थे।कांग्रेस और बीजेपी लिंगायत समुदाय को अपनी ओर करने में जुटी हुई है|  इससे पहले लिंगायत समुदाय के चित्रदुर्ग मठ के महंत शिवमूर्ति मुरुघा शरानारु ने बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह को पत्र भी लिखा था|  उन्होंने पत्र में कहा कि, 'कांग्रेस का लिंगायतों को अलग धर्म का दर्जा देने का प्रस्ताव सही है| यह समुदाय को बांटने के लिए उठाया गया कदम नहीं है बल्कि यह लिंगायतों की उपजातियों को संगठित करने के लिए किया गया प्रयास है| '

चुनावी बिगुल :

कर्नाटक में 12 मई को वोट डाले जाएंगे और 15 मई को वोटों की गिनती होगी| चुनाव आयोग के मुताबिक 17 अप्रैल से 24 अप्रैल तक नामांकन भरे जाएंगे| इसके बाद 25 अप्रैल को नामांकन पत्रों की जांच की जाएगी, जिसके बाद 27 अप्रैल तक उम्मीदवार अपना नाम वापस ले सकेंगे|

    मेधज न्यूज़ के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक करें। आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं।

    ...
    loading...

    Similar Post You May Like


    Trends