Headline



न्यूजीलैंड दौरे पर अपने टैलेंट के मुताबिक प्रदर्शन नहीं कर पा रहा ये गेंदबाज

Medhaj News 27 Feb 20,16:07:39 Entertainment
bumra.jpg

जिस गेंदबाज के हाथ में बॉल आते ही बल्लेबाजों के कान खड़े हो जाते थे | जो गेंदबाज जरूरत के वक्त कप्तान को विकेट लेकर देता था आज वही गेंदबाज एक अदद विकेट को तरस रहा है | हम बात कर रहे हैं जसप्रीत बुमराह (Jasprit Bumrah) की, जो न्यूजीलैंड दौरे पर अपने टैलेंट के मुताबिक प्रदर्शन नहीं कर पा रहे हैं | तीन मैचों की वनडे सीरीज में एक भी विकेट नहीं लेने वाले बुमराह ने वेलिंगटन टेस्ट में भी सिर्फ एक विकेट झटका | जबकि पिच तेज गेंदबाजों के मुफीद थी और विरोधी गेंदबाज लगातार विकेट चटका रहे थे लेकिन बुमराह एक विकेट लेने के लिए भी तरस गए | बुमराह की इस खराब फॉर्म पर कई एक्सपर्ट सवाल खड़े कर रहे हैं, इसी बीच टीम इंडिया के पूर्व कोच और मुंबई इंडियंस में उनके मेंटॉर माने जाने वाले जॉन राइट (John Wright) ने भी बुमराह के प्रदर्शन पर अपनी चुप्पी तोड़ी है | पूर्व कीवी खिलाड़ी जॉन राइट (John Wright) का मानना है कि न्यूजीलैंड की टीम ने बुमराह की गेंदबाजी के काफी वीडियो देखे हैं और उनके खिलाफ अच्छी तैयारी की है, शायद यही वजह है कि बुमराह इतने प्रभावशाली नहीं रहे | राइट ने बुमराह का बचाव करते हुए ये भी कहा कि वो अभी चोट के बाद वापसी कर रहे हैं जिसकी वजह से उन्हें अपनी पुरानी लय मिलने में वक्त भी लग सकता है |





जॉन राइट (John Wright) ने कहा - बुमराह अभी चोट के बाद लौटे हैं | वो अपनी लय पाने की कोशिश कर रहे हैं | कई खिलाड़ियों के साथ ऐसा होता है कि अच्छा प्रदर्शन करने के बाद उनका ग्राफ गिर जाता है | जॉन राइट ने बुमराह को सलाह देते हुए कहा कि उन्हें इस मुश्किल समय का डटकर मुकाबला करना है | इसी से उन्हें सीख मिलेगी और वो अपनी लय वापस पाएंगे | राइट ने बुमराह को समझदार गेंदबाज बताया और कहा कि वो इस मुश्किल समय से जल्द उबर जाएंगे | बता दें जसप्रीत बुमराह की खोज जॉन राइट ने ही की थी | खुद बुमराह ने एक इंटरव्यू में इसका खुलासा किया था | बुमराह ने बताया था कि सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी के दौरान मुंबई के खिलाफ मैच में वो खेल रहे थे और जॉन राइट वो मैच देखने आए थे | बुमराह ने इंटरव्यू में बताया - पार्थिव ने मुझे बताया कि जॉन राइट तुम्हारे बारे में पूछ रहे थे, मुझे लगा कि वो मजाक कर रहे हैं | मैं 19 साल की उम्र में मुंबई की टीम में आ गया था लेकिन मैं कोई ट्रेनिंग नहीं करता था, मेरी कोई डाइट ही नहीं थी | मैं पुशअप्स भी नहीं कर पाता था | जॉन राइट ने मुझे फिटनेस पर ध्यान लगाने के लिए जोर दिया | जॉन राइट के पास टैलेंट समझने की कला है | मुंबई इंडियंस के कई खिलाड़ी भारत के लिए खेले हैं | मैं आज भी जॉन राइट से बात करता हूं |


    Comments

    Leave a comment



    Similar Post You May Like

    Trends