चीन ने लगाया आरोप : भारतीय ड्रोन हमारे इलाके में गिरा

medhaj news 7 Dec 17 , 06:01:37 Governance
modi_jinping.jpg

चीन ने भारत पर उसकी सीमा में घुसपैठ का आरोप लगाया है | उसका कहना है कि भारत के एक ड्रोन ने उसके हवाई क्षेत्र में घुसपैठ की जो बाद में क्रैश हो गया |सूत्रों  के मुताबिक चीनी सेना के पश्चिमी युद्ध क्षेत्र के उप-निदेशक झांग शुइली ने इस पर आपत्ति जताई | शिन्हुआ न्यूज एजेंसी से बात करते हुए उन्होंने कहा, ‘भारत के इस कदम से चीन की क्षेत्रीय संप्रभुता का उल्लंघन हुआ है हम इस पर अपनी कड़ी असहमति और विरोध व्यक्त करते हैं’ |

हालांकि शुइली ने यह नहीं बताया कि भारतीय ड्रोन उसके इलाके में कब और कहां आया उन्होंने कहा कि सीमा पर तैनात चीनी सैनिकों ने पेशेवर और जिम्मेदाराना तरीके से काम किया, और ड्रोन की पहचान का पता लगाया | इसी साल जून में भारत और चीन की सेनाएं सिक्किम के डोकलाम स्थित अंतरराष्ट्रीय सीमा पर आमने-सामने आ गई थीं  |चीन की सेना ने वहां सड़क बनाने का प्रयास किया था | जिसे भारतीय सेना ने रोक दिया था इसी वजह से कई दिनों तक दोनों देशों के बीच टकराव बना रहा हालांकि बाद में बातचीत के जरिए मामले को सुलझा लिया गया |

डोकलाम विवाद क्या था?
- चीन सिक्किम सेक्टर के डोकलाम इलाके में सड़क बना रहा था। डोकलाम के पठार में ही चीन, सिक्किम और भूटान की सीमाएं मिलती हैं। भूटान और चीन इस इलाके पर दावा करते हैं। भारत भूटान का साथ देता है। भारत में यह इलाका डोकलाम और चीन में डोंगलांग कहलाता है।
- चीन ने जून की शुरुआत में यह सड़क बनाना शुरू किया था। भारत ने विरोध जताया तो चीन ने घुसपैठ कर दी। चीन ने भारत के दो बंकर तोड़ दिए थे। इसके बाद दोनों देशों के बीच तनाव बढ़ गया था। हालांकि, 73 दिन चले इस टकराव के बाद चीनी सेना वहां से हटने को तैयार हो गई।
- दरअसल, सिक्किम का मई 1975 में भारत में विलय हुआ था। चीन पहले तो सिक्किम को भारत का हिस्सा मानने से इनकार करता था। लेकिन 2003 में उसने सिक्किम को भारत के राज्य का दर्जा दे दिया। हालांकि, सिक्किम के कई इलाकों को वह अपना बताता रहा है।

 

    मेधज न्यूज़ के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक करें। आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं।

    ...
    loading...

    Similar Post You May Like


    Trends

    Special Story