सीएम शिवराज सिंह ने सदन में साबित किया बहुमत, सपा व बसपा ने किया समर्थन

Medhaj News 24 Mar 20 , 06:01:40 Governance
cm_shivraj.png

बड़ी खबर यह है कि मध्य प्रदेश में शिवराज सिंह चौहान ने विधानसभा सदन में अपना बहुमत साबित कर दिया। दूसरा मुख्य समाचार यह है कि विधानसभा में कांग्रेस पार्टी के विधायक उपस्थित नहीं थे। उन्होंने विधानसभा सत्र का बहिष्कार कर दिया था।





सपा-बसपा और निर्दलीयों ने सरकार का समर्थन किया

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने विश्वास मत प्रस्तुत किया। जिस समय कॉन्फिडेंस मोशन पेश किया गया हाउस में कांग्रेस पार्टी का एक भी विधायक उपस्थित नहीं था। समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी सहित निर्दलीय विधायकों ने कॉन्फिडेंस मोशन के फेवर में वोट किया।

कांग्रेस पार्टी के विधायकों ने विधानसभा सत्र का बहिष्कार किया 

22 मार्च की रात तक खबर थी कि विधानसभा का सत्र 25 मार्च या इसके बाद बुलाया जा सकता है। 23 मार्च को अचानक भाजपा में घटनाक्रम तेजी से घटना शुरू हुए। शाम 6:00 बजे विधायक दल की बैठक बुलाई गई। भाजपा के विधायकों ने शिवराज सिंह चौहान को अपना नेता चुना। रात 9:00 बजे शिवराज सिंह चौहान ने मुख्यमंत्री पद की शपथ ले ली। इसी के साथ विधानसभा सचिवालय ने 24 मार्च को विधानसभा सत्र के आयोजन की अधिसूचना जारी कर दी। कांग्रेस के विधायकों का कहना है कि आधी रात में अधिसूचना जारी करके सुबह सत्र बुलाना गलत है। इसलिए विधायकों ने सत्र का बहिष्कार कर दिया।

शिवराज सिंह चौहान मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री के रूप में कार्यभार संभालते ही एक्शन मोड में आ गए। उन्होंने सबसे पहले कोरोना वायरस (COVID19) के मद्देनजर वल्लभ भवन में प्रदेश के वरिष्ठ अधिकारियों एवं केन्द्र से आए उच्च अधिकारियों के साथ आपातकालीन बैठक की और इससे निपटने के लिए आवश्यक कदम उठाने के लिए अधिकारियों को दिशा-निर्देश दिए। शपथ लेने के बाद मुख्यमंत्री चौहान मंत्रालय पहुंचे और पूजा-अर्चना भी की। 


    Comments

    Leave a comment



    Similar Post You May Like

    Trends