Headline

लखनऊ संसदीय क्षेत्र विकास निधि के अंतर्गत परियोजनाओं का शिलान्यास

medhaj news 25 Feb 19 , 06:01:39 Governance
f4b7f506_2d78_43fa_8677_1dd2baf55427.jpg
आज दिनांक 25 फरवरी 2019 को झूलेलाल पार्क, निकट हनुमान सेतु में विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं (आयुष्मान भारत, प्रधानमंत्री आवास योजना, पेंशन योजनाएं, शादी हेतु अनुदान योजना, राष्ट्रीय परिवारिक लाभ योजना, प्रधानमंत्री उज्जवला योजना आदि) के लाभार्थियों को स्वीकृति पत्रो का वितरण एवं लखनऊ संसदीय क्षेत्र विकास निधि के अंतर्गत परियोजनाओं का शिलान्यास मुख्य अतिथि माननीय गृहमन्त्री भारत सरकार श्री राजनाथ सिंह जी के कर कमलो द्वारा किया गया। कार्यक्रम के विशिष्ट अतिथि माननीय उप मुख्यमंत्री श्री दिनेश शर्मा उपस्थित रहे। साथ ही माननीय मंत्री श्री आशुतोष टण्डन, माननीय मंत्री श्री ब्रजेश पाठक, माननीय विधायक श्री सुरेश कुमार श्रीवास्तव व माननीय विधायक डा0 नीरज बोरा की गरिमामय उपस्थिति में कार्यक्रम सकुशल संपन्न हुआ। कार्यक्रम में जिलाधिकारी लखनऊ श्री कौशल राज शर्मा, मुख्य विकास अधिकारी श्री मनीष बंसल व अन्य विभागीय अधिकारीगण उपस्थित रहे। कार्यक्रम में माननीय गृहमन्त्री भारत सरकार श्री राजनाथ सिंह जी के द्वारा 300.450 लाख़ की प्रस्तावित 33 परियोजनाओ में से 8 परियोजनाओं का शिलान्यास किया गया। बाकी अवशेष परियोजनाओं का शिलान्यास आगामी 3 मार्च 2019 को प्रस्तावित है।




 


1. यदुनाथ सान्याल वार्ड के अन्तर्गत स्वामी तुलसी दास पार्क का सौंदर्यीकरण (प्लान्टेशन एवं ग्रीन हाउस) निर्माण कार्य। (स्वीकृत धनराशि 9.850)


2. राजीव गांधी वार्ड- प्रथम विनय खण्ड-1, गोमतीनगर में पूर्व आई0ए0एस0 श्री लाखा जी के मकान के सामने पार्क का सौदर्यीकरण कार्य। (स्वीकृत धनराशि 8.000)


3. सआदतगंज वार्ड स्थित नूरबाड़ी में बंसतलाल गुप्ता पार्क का सौंदर्यीकरण कार्य। (स्वीकृत धनराशि 7.800)


4. इन्दिरानगर वार्ड डी ब्लाक स्थित कमल पार्क का सौंदर्यीकरण कार्य। (स्वीकृत धनराशि 10.000)


5. तिलक नगर ऐशबाग वार्ड पार्क का सौंदर्यीकरण कार्य। (स्वीकृत धनराशि 5.000)


6. बशीरतगंज गनेशगंज वार्ड के अन्तर्गत आर्य समाज रोड पर स्थित  पार्क का सौंदर्यीकरण कार्य। (स्वीकृत धनराशि 7.590)


7. बाबू बनारसी दास वार्ड के अन्तर्गत बड़ी पार्क पुराना किला का सौंदर्यीकरण कार्य। (स्वीकृत धनराशि 8.000)


8. पेपरमिल वार्ड के अन्तर्गत शनिदेव पार्क का सौदर्यीकरण कार्य। (स्वीकृत धनराशि 8.000)  सांसद स्थानीय क्षेत्र विकास योजना के अन्तर्गत मा0 सांसद (लोकसभा) श्री राजनाथ सिंह जी की निधि वर्ष 2014-15 से वर्ष 2018-19 तक स्वीकृत कार्यो का विवरणः-


सांसद स्थानीय क्षेत्र विकास योजना के अन्तर्गत वर्ष 2014-15 से वर्ष 2018-19 तक रू0 2592.320 लाख की लागत के कुल 410 कार्य स्वीकृत हुए है, जिसके सापेक्ष 342 कार्य पूर्ण कर लिये गये है तथा 68 कार्य निर्माणाधीन है। कुल 410 स्वीकृत कार्यो में 55 पेन्टेड सड़क, 198 इण्टरलाकिंग सड़क/नाली, 25 पार्को का सौंदर्यीकरण, 66 प्राथमिक विद्यालयों एवं अन्य स्थानों पर शौचालयों एवं सबमर्सिबल, 50 हैण्डपम्प, 06 नाला निर्माण, 02 विद्यालय बाउण्ड्रीवाल, 02 मिनी ट्यूबवेल, 02 अधिवक्ता भवन निर्माण, 01 पुलिया निर्माण, 01 श्मशान घाट निर्माण तथा 01 पशु एम्बुलेन्स के कार्य स्वीकृत किये गये है। इसके साथ ही केरल बाढ़ पीड़ितो हेतु भी सहायतार्थ रू0 100.00 लाख की धनराशि प्रेषित की गयी है। स्वीकृत कार्यों के सापेक्ष 342 कार्य पूर्ण हुए है, जिसमें 46 पेन्टेड सड़के, 155 इण्टरलाकिंग सड़क/नाली, 13 पार्को का सौंदर्यीकरण, 66 प्राथमिक विद्यालयों एव अन्य स्थानों पर शौचालयों एवं सबमर्सिबल, 50 हैण्डपम्प, 06 नाला निर्माण, 02 विद्यालय बाउण्ड्रीवाल, 01 पुलिया निर्माण, 01 श्मशान घाट निर्माण तथा 01 पशु एम्बुलेन्स के कार्य पूर्ण हो गये है। शेष विभिन्न प्रकार 68 कार्य निमार्णाधीन है, जिन्हे शीघ्र पूर्ण कर लिया जाएगा।


मा0 सांसद (लोकसभा) श्री राजनाथ सिंह जी द्वारा उक्त के पश्चात  निम्नवत कल्याणकारी योजनाओं के लाभार्थियों को स्वीकृति पत्रों का वितरण किया गया 1. आयुष्मान भारत- गोल्डन कार्ड वितरण :- प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना भारत सरकार एवं राज्य सरकार द्वारा संयुक्त रूप से संचालित योजना है। इस योजनान्तर्गत जनपद में पात्र परिवारों की कुल संख्या लगभग 279125 है


इनको निःशुल्क चिकित्सीय सुविधा उपलब्ध कराये जाने हेतु जनपद में कुल 30 सरकारी एवं 122 निजी चिकित्सालय, इस प्रकार कुल 152 चिकित्सालयों को सूचीबद्ध किया जा चुका है। जनपद लखनऊ में अब तक लगभग 18482 गोल्डन कार्ड निर्गत किये जा चुके हैं। साथ ही 2429 लाभार्थियों को योजनान्तर्गत उपचार हेतु टी0एम0एस0 पोर्टल पर पंजीकृत किया जा चुका है। कार्यक्रम में आज 1000 पात्र लाभार्थियों को नवीन गोल्डेन कार्ड वितरित किया गया है।


2. प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) :- प्रधानमंत्री आवास योजना केन्द्र सरकार एवं राज्य सरकार द्वारा प्रायोजित एक बहु प्रतिष्ठित योजना है। इस योजनान्तर्गत अनुदान की कुल धनराशि  रू0 2.50 लाख तीन किश्तों में PFMS पोर्टल के माध्यम से DUDA द्वारा लाभार्थियों के बैंक खाते में अवमुक्त की जाती है।  वित्तीय वर्ष 2018-19 में 3800 लाभार्थियों के आवास निर्माण का कार्य पूर्ण करा लिया गया है। आज के कार्यक्रम में 200 लाभार्थियों को, जिनका निर्माण अभी हाल ही में ही पूर्ण हुआ है, उनको चाभी वितरण किया जा रहा है। आज के कार्यक्रम  में 250 नये लाभार्थी जिनको गत माह में आवास स्वीकृत हुए हैं, उन्हें भी आवास निर्माण हेतु स्वीकृति पत्र का वितरण किया गया है।


3. राष्ट्रीय वृद्धावस्था पेंशन योजना :- इस योजनान्तर्गत वर्ष 2018-19 में 77218 पुराने पेंशनरों को तीन तिमाही किश्तों का भुगतान किया जा चुका है। वित्तीय वर्ष 2018-19 कुल 9241 नवीन पेंशन स्वीकृति दी गयी। इसके लिए शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्र में कैम्प आयोजित किए गये। विगत 03 माह में विशेष कैम्प आयोजित कर 964 स्वीकृत कराए गये। कार्यक्रम में आज नवीन चयनित पेंशनरों में से 700 लाभार्थियों को पेंशन स्वीकृति प्रमाण पत्र वितरित किया गया है।


4. निराश्रित महिला सहायक अनुदान/पेंशन योजना :- इस योजनान्तर्गत कुल 46601 पुराने पेंशनरों को तीन तिमाही किश्तों का भुगतान किया जा चुका है। वित्तीय वर्ष 2018-19 कुल 3524 नवीन पेंशन स्वीकृति दी गयी। इसके लिए शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्र में कैम्प आयोजित किए गये। विगत 960 पेंशनर्स विगत 03 माह में विशेष कैम्प आयोजित कर स्वीकृत कराए गये। कार्यक्रम में आज नवीन चयनित पेंशनरों में से 150 पेंशनरों के स्वीकृति का प्रमाण पत्र वितरित किया गया है।


5. दिव्यांग व्यक्तियों हेतु भरण पोषण अनुदान (दिव्यांग पेंशन) योजना :-  वर्ष 2018-19 में इस योजना के अन्तर्गत 17936 लाभार्थियों को आर्थिक सहायता का भुगतान किया जा चुका है। वित्तीय वर्ष 2018-19 में कुल 960 नवीन पेंशनरों को स्वीकृति दी गयी। इसके लिए नगरीय क्षेत्र में 967 दिव्यांगजनों को पिछले 06 माह में शहरी क्षेत्र में विशेष कैम्प आयोजित कर स्वीकृत कराए गये। कार्यक्रम में आज 100 व्यक्तियों को स्वीकृति प्रमाण पत्र वितरित किया गया है।


6. अनुसूचित जाति एवं सामान्य वर्ग के पुत्री की शादी हेतु अनुदान योजना :- इस योजनान्तर्गत वर्ष 2018-19 में जनपद लखनऊ में अनुसूचित जाति के 822 एवं सामान्य वर्ग के 79 व्यक्तियों को रू0 20,000/- की दर से आर्थिक सहायता का भुगतान किया गया है। कार्यक्रम में आज 30 व्यक्तियों को आर्थिक सहायता सम्बन्धी स्वीकृति पत्र वितरित किया गया है।


7. पति की मृत्यु उपरान्त निराश्रित महिला पेंशन पा रही लाभार्थियो के पुत्री के विवाह हेतु :- इस योजना अन्तर्गत लाभार्थी को रू0 10000/- की धनराशि प्रदान की जाती है। इस योजना अन्तर्गत वर्ष 2018-19 में 10 लाभार्थियो ंके आवेदन पत्र स्वीकृत किये गये है। कार्यक्रम में आज सभी 10 लाभार्थियो को स्वीकृति प्रमाण पत्र वितरित किया गया।


 




8. दिव्यांग से शादी करने पर पुरस्कार :- विवाहित जोड़े में यदि पति दिव्यांग है तो रू0 15000/- एवं पत्नी दिव्यांग है तो रू0 20000/- की धनराशि, यदि पति-पत्नी दोनों दिव्यांग हैं तो रू0 35000/- की धनराशि अनुदान के रूप में प्रोत्साहन स्वरूप दी जायेगी।


9. राष्ट्रीय परिवारिक लाभ योजना :-  वर्ष 2018-19 में इस योजना के अन्तर्गत 2610 व्यक्तियों को रुपये 30000/- की एकमुश्त आर्थिक सहायता का भुगतान किया जा चुका है। आज के कार्यक्रम में 500 व्यक्तियों को स्वीकृति प्रमाण पत्र वितरित किया गया है।


10. राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम :- इस योजनान्तर्गत वर्तमान समय में जनपद लखनऊ में अन्त्योदय राशनकार्डों की संख्या 50112 एवं पात्र गृहस्थी राशन कार्डों की संख्या 633354 है। विगत माह में पूरे जनपद में अभियान चलाकर लगभग 5982 पात्र गृहस्थियों को नये लाभार्थियों के रूप में जोड़ा गया। कार्यक्रम में आज 1000 पात्र गृहस्थी लाभार्थियों को नवीन राशन कार्ड बाँटा गया है।


11. उ0प्र0कौशल विकास मिशन :- वित्तीय वर्ष 2018-19 में जिले का लक्ष्य 3840 निर्धारित किया गया था, परन्तु लक्ष्य के सापेक्ष 9438 अभ्यर्थियों ने प्रशिक्षण हेतु प्रवेश लिया। इनमें से 1806 प्रशिक्षार्थियों ने अपना प्रशिक्षण पूर्ण कर लिया है, जिसके सापेक्ष 552 प्रशिक्षार्थियों को विभिन्न प्रशिक्षण प्रदाताओं के माध्यम से सेवायोजित कराया जा चुका है। आज के कार्यक्रम में 400 लाभार्थियों को प्रशिक्षण पूर्ण करने का प्रमाण पत्र का वितरण किया गया।


12. प्रधानमंत्री उज्जवला योजना :- इस योजनांतर्गत ग्राम स्वराज अभियान के दौरान लखनऊ जिले के 146 गावों को धुआं रहित (संतृप्त) किया गया। एल0पी0जी0 कनेक्शन के लिये रू0 1600/- का शुल्क सरकार द्वारा वहन किया जाता है। जनपद लखनऊ में इण्डियन ऑयल द्वारा 61484, भारत पेट्रोलियम द्वारा 47076 तथा हिन्दुस्तान पेट्रोलियम द्वारा 55759 एल0पी0जी0 कनेक्शन जारी किये गये हैं। इस प्रकार कुल 164319 लाभार्थियों को योजना के तहत एल0पी0जी0 कनेक्शन प्रदान किया गया है। कार्यक्रम में आज 400 पात्र लाभार्थियों को उज्जवला गैस कनेक्शन के स्वीकृत किया गया।


13. मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना :- प्रदेश के शिक्षित बेरोजगारों को स्वरोजगार स्थापित कराने के उद्देश्य से इस योजना का संचालन किया गया है। योजनान्तर्गत उद्योग क्षेत्र हेतु रू0 25.00 लाख एवं सेवा क्षेत्र हेतु रू0 10.00 लाख तक ऋण उपलब्ध कराया जाता है तथा 25 प्रतिशत मार्जिन मनी उपादान लाभार्थी को उपलब्ध कराया जाता है। योजनान्तर्गत सामान्य वर्ग हेतु 10 प्रतिशत मार्जिन मनी अंशदान एवं विशेष कटेगरी हेतु (अनु0जाति/अनु0जनजाति/महिला/पिछडा वर्ग/विकलांग) हेतु 5 प्रतिशत अंशदान कुल परियोजना लागत का लगाना होता है। कार्यक्रम में आज 05 लाभार्थियों को प्रमाण पत्र का वितरण किया गया।


14. ’’एक जनपद एक उत्पाद’’ योजना :- एक जनपद एक उत्पाद कार्यक्रम के अन्तर्गत चिन्हित ओ0डी0ओ0पी0 उत्पादों की विभिन्न विधाओं में कार्यरत इच्छुक व्यक्तियों के लिए एक जनपद एक उत्पाद कार्यक्रम उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा संचालित किया गया है। लखनऊ जनपद हेतु चिकनकारी व जरी जरदोजी को ओ0डी0ओ0पी के अन्तर्गत चिन्ह्ति किया है। योजनान्तर्गत रू0 25.00 लाख तक के ऋण पर 25 प्रतिशत मार्जिन मनी, रू0 25.00 लाख से रू0 50.00 लाख तक 20प्रतिशत, रू0 50.00 लाख से रू0 150.00 लाख तक 15 प्रतिशत एवं रू0 150 लाख से रू0 200.00 लाख तक 10प्रतिशत। अनुदान के रूप मे अधिकतम रू0 20.00 लाख तक की धनराशि अनुमन्य है। योजनान्तर्गत सामान्य वर्ग हेतु 10 प्रतिशत मार्जिन मनी अंशदान एवं विशेष कटेगरी हेतु (अनु0जाति/अनु0जनजाति/महिला/पिछडा वर्ग/विकलांग) हेतु 5 प्रतिशत अंशदान कुल परियोजना लागत का लगाना होता है। कार्यक्रम में आज 05 लाभार्थियों को प्रमाण पत्र का वितरण किया गया।


15. कृत्रिम अंग/सहायता उपकरण :- इस योजना मे बी0पी0एल0 व विभिन्न श्रेणी के पात्र दिव्यांगों को उनकी आवश्यकता के अनुसार रू0 8000/- की सीमा तक के कृत्रिम अंग व सहायता उपकरण (जैसे ट्राईसाईकिल,व्हील चेयर,वाकिंग स्टिक,कान की मशीन,बैशाखी आदि) निःशुल्क प्रदान किये जाते हैं। वित्तीय वर्ष 2018-19 कृत्रिम अंग/उपकरण सहायता के अन्तर्गत 1200 लोगों को चिन्हित करके विभिन्न प्रकार के उपकरण बांटे गये जिसमें लगभग 90 लाख रूपये की लागत आयी। कार्यक्रम में आज 30 लाभार्थियों को सहायता उपकरण वितरण किया गया है।

    Comments

    Leave a comment


    Similar Post You May Like