HC के निर्देश अनुसार सीएम योगी का एलान,बिना परमिट नहीं लगेंगे लाउडस्पीकर

medhaj news 8 Jan 18 , 06:01:38 Governance
yogi.jpg

ध्वनि प्रदूषण को लेकर हाईकोर्ट के सख्त निर्देशों के बाद योगी आदित्यनाथ ने धार्मिक स्थलों पर बिना इजाजत चल रहे लाउड स्पीकरों को लेकर रोक लगा दी है। सरकार ने इस संबंध में प्रशासन से इजाजत लेने के लिए 15 जनवरी आखिरी तिथि निर्धारित की है| 20 जनवरी से लाउडस्पीकर हटवाने का कार्य शुरू कर दिया जाएगा |प्रमुख सचिव (गृह) अरविंद कुमार ने बताया कि उच्च न्यायालय के ध्वनि प्रदूषण (विनियमन और नियंत्रण) के प्रावधानों का कड़ाई से अनुपालन के संबंध में निर्देश के बाद राज्य सरकार ने इस संबंध में विस्तृत दिशा निर्देश जारी किए हैं | राज्य सरकार को यह छूट है कि वह एक कैलेन्डर वर्ष में अधिकतम 15 दिनों के लिए सांस्कृतिक या धार्मिक अवसरों पर रात 10 बजे से रात 12 बजे के बीच ध्वनि प्रदूषण कम करने की शतरे के साथ लाउडस्पीकर बजाने की छूट दे सकती है | आदेश में ध्वनि प्रदूषण (विनियमन और नियंत्रण) नियम, 2000 के अनुसार नियमावली के शेड्यूल में एएक्यूएसआरएन के तहत विभिन्न क्षेत्रों जैसे इंडस्ट्रियल, कॉमर्शियल, रेजिडेंशियल व शांत क्षेत्र में दिन व रात के समय अधिकतम ध्वनि तीव्रता निर्धारित की गई है। इसके तहत इंडस्ट्रियल एरिया में दिन के वक्त 75 व रात के वक्त 70 डेसीबल, कॉमर्शियल एरिया के लिये 65 व 55, रेजिडेंशियल एरिया में 55 व 45 जबकि, साइलेंस जोन मे दिन में 50 डेसीबल व रात में 40 डेसीबल ध्वनि का मानक तय किया गया है। मामले में दोषी पाये जाने पर उसे पांच साल तक की सजा, एक लाख रुपये जुर्माना या दोनों साथ ही उल्लंघन करने के कुल दिनों का पांच हजार रुपये प्रतिदिन के हिसाब से जुर्माना भी देना होगा।

      

 

    मेधज न्यूज़ के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक करें। आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं।

    ...
    loading...

    Similar Post You May Like


    Trends

    Special Story