राजीव गांधी सेवा केन्द्र का नाम बदलने के मामले में कोर्ट का आया फैसला ,याचिका हुई ख़ारिज

medhaj news 19 Jan 18 , 06:01:38 Governance
Rajasthan_High_Court.jpg

राजस्थान सरकार के सेवा केंद्रों का नाम राजीव गांधी सेवा केंद्र से बदलकर अटल सेवा केंद्र करना वसुंधरा राजे सरकार को भारी पड़ गया है| राजीव गांधी सेवा केन्द्र का नाम बदलने के मामले में राज्य सरकार को राजस्थान हाईकोर्ट से करारा झटका लगा है। राजीव गांधी सेवा केन्द्र का नाम बदलने के मामले में हाईकोर्ट ने राज्य सरकार के आदेश को निरस्त कर दिया है। जस्टिस एमएन भंडारी की कोर्ट ने संयम लोढ़ा की याचिका पर यह आदेश दिया। राज्य सरकार की ओर से 28 दिसम्बर 2014 को नोटिफिकेशन के जरिए राजीव गांधी सेवा केन्द्र का नाम बदलकर अटल सेवा केन्द्र कर दिया गया था। मामले की सुनवाई के दौरान कोर्ट ने सुझाव दिया है कि ऐसी स्थिति फिर से उत्पन्न नहीं हो और स्वाधीनता सेनानियों के नाम पर नाम रखे जाएं। कांग्रेस सरकार ने जिला मुख्यालयों पर जन सुविधा केन्द्र और पंचायत समिति एवं ग्राम पंचायतों पर भारत निर्माण राजीव गांधी सेवा केन्द्र भवनों का निर्माण मनरेगा बजट से किया था| इन्हीं केंद्रों को लेकर सीएम वसुंधरा ने 25 दिसम्बर को पूर्व प्रधानमंत्री अटलबिहारी वाजपेयी के जन्म दिन को सुशासन दिवस के रूप में मनाने की घोषणा करते हुए कहा था कि ग्राम पंचायतों पर अटल सेवा केन्द्र खोले जाएंगेसीएम की घोषणा के बाद जारी आदेशों का असर प्रदेश के करीब 9500 ऐसे केंद्रों के पर पड़ा. उनके नाम बदल कर अटल सेवा केन्द्र कर दिए गए| राजीव गांधी सेवा केन्द्रों के नाम बदलकर अटल सेवा केन्द्र करने में लाखों रूपए खर्च हुए और अब कोर्ट के फैसले के बाद फिर से नाम बदले जाएंगे।

 

    मेधज न्यूज़ के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक करें। आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं।

    ...
    loading...

    Similar Post You May Like


    Trends

    Special Story