Headline

प्रधानमंत्री ने लाल किले में किया सुभाष चंद्र बोस म्यूजियम का उद्घाटन

Medhajnews 23 Jan 19 , 06:01:39 Governance
klklkk347.jpeg

 उड़ीसा के कटक में एक संपन्न बांग्ला परिवार में जन्मे सुभाष चंद्र बोस अपने देश के लिए हर हाल में आजादी चाहते थे 'नेताजी' लड़ मरकर हर कीमत पर मां भारती को आजादी की बेड़ियों से मुक्त कराने को आतुर उग्र विचारधारा वाले देश के युवा वर्ग का चेहरा माने जाते थे  आज नरेंद्र मोदी ने सुभाष चंद्र बोस की 122 वीं जयंती पर लाल किले में सुभाष चंद्र बोस म्यूजियम का उद्घाटन किया  |





मोदी उसी जगह पर याद-ए-जलियां म्यूजियम (जलियांवाला बाग और प्रथम विश्वयुद्ध पर म्यूजियम) और 1857 (प्रथम स्वतंत्रता संग्राम) पर म्यूजियम और भारतीय कला पर दृश्यकला म्यूजियम भी गए। बोस और आजाद हिंद फौज पर म्यूजियम में सुभाष चंद्र बोस और आईएनए से संबंधित विभिन्न वस्तुओं को प्रदर्शित किया गया है। इसमें नेताजी द्वारा इस्तेमाल की गई अपने उग्र विचारों के चलते खून के बदले आजादी देने का वादा करने वाले सुभाष चंद्र बोस का नाम भारतीय स्वतंत्रता संग्राम के इतिहास में सुनहरे अक्षरों में लिखा है।


    Comments

    Leave a comment


    Similar Post You May Like