आम आदमी पार्टी में चल रही खींचतान के मद्देनज़र विश्वास हुए कवि सम्मलेन से बाहर

medhaj news 10 Jan 18 , 06:01:38 Governance
vishwas.jpg

राज्‍य सभा टिकट बंटवारे को लेकर कुमार विश्‍वास ने बगावती तेवर अख्तियार कर रखते हैं तो पार्टी उन्‍हें भाव देने के मूड में नहीं। दिल्‍ली की अरविंद केजरीवाल सरकार हर साल कवि सम्‍मेलन कराती है, मगर इस बार कुमार विश्‍वास को न्‍योता नहीं भेजा गया है। कुमार विश्‍वास इससे बेहद खफा हैं और पार्टी भी सीधा जवाब देने को तैयार नहीं। कला संस्‍कृति विभाग के तहत हिंदी अकादमी राष्‍ट्रीय कवि सम्‍मेलन आयोजित कराती है, इस साल लाल किले पर बुधवार (10 जनवरी) को यह आयोजन होना है। इसका उद्घाटन खुद सीएम करेंगे। जब से दिल्‍ली में आप की सरकार बनी है, कुमार विश्‍वास को लगभग हर कार्यक्रम में अतिथि के रूप में बुलाया जाता रहा है। इस बार परिस्थितियां ऐसी हैं कि सरकार की हिम्‍मत नहीं कि उन्‍हें श्रोता के रूप में भी सहन कर सके। इस संबंध में मंगलवार को कुमार विश्वास ने कहा कि यह उनके लिए कोई विशेष मुद्दा नहीं है। सरकार के कवि-सम्मेलनों में उनकी कोई रुचि नहीं रही है, लेकिन जब से दिल्ली में आम आदमी पार्टी की सरकार बनी है, तब से अधिकारी और अकादमी सदस्यों ने उन्हें प्रेमपूर्वक कमोबेश हर कार्यक्रम में अतिथि रूप में बुलाया है। पार्टी के भीतर किसी मसले पर वह सहमत नहीं हैं, तो उसे सार्वजनिक रूप से साझा नहीं करना चाहिए। घर की बातें घर में सुलझ जाएं तो बेहतर होता है।

 

    मेधज न्यूज़ के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक करें। आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं।

    ...
    loading...

    Similar Post You May Like


    Trends