Headline



कल रात 12 बजे से पूरे देश में 21 दिन तक लॉकडाउन, घरों से बाहर निकलने पर पूरी तरह पाबंदी

Medhaj News 25 Mar 20 , 06:01:40 Governance
modi.jpeg

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि 22 मार्च को जनता कर्फ्यू का जो संकल्प लिया था, हर भारतवासी ने पूरी संवेदनशीलता और जिम्मेदारी के साथ अपना योगदान दिया। बच्चे, बुजुर्ग, छोटे-बड़े, गरीब, मध्यम हर वर्ग के लोग परीक्षा की इस घड़ी में साथ आए। जनता कर्फ्यू को हर भारतवासी ने सफल बनाया। एक दिन के जनता कर्फ्यू से भारत ने दिखा दिया कि जब देश पर संकट आता है, जब मानवता पर संकट आता है तो किस प्रकार से हम सभी भारतीय मिलकर एकजुट होकर मुकाबला करते हैं।

कुछ लोग गलतफहमी हैं कि सोशल डिस्टैंसिंग केवल मरीज के लिए आवश्यक है। यह सोचना सही नहीं है। सोशल डिस्टैंसिंग हर नागरिक के लिए, हर परिवार के लिए, परिवार के हर सदस्य के लिए है, प्रधानमंत्री के लिए भी है। कुछ लोगों की लापरवाही, कुछ लोगों की गलत सोच, आपको, आपके बच्चों को, आपके माता-पिता को, आपके परिवार को, आपके दोस्तों को और आगे चल करके पूरे देश को बहुत बड़ी मुश्किल में झोंक देगी। अगर ऐसी लापरवाही जारी रही तो भारत को इसकी बहुत बड़ी कीमत चुकानी पड़ सकती है।

आज (मंगलवार) रात 12 बजे से 21 दिन के लिए पूरे देश में संपूर्ण लॉकडाउन होगा। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस का साइकिल तोड़ने के लिए यह 21 दिन जरूरी हैं। अगर ये 21 दिन नहीं संभले तो फिर कई परिवार तबाह हो जाएंगे। उन्होंने कहा कि इस लॉकडाउन को कर्फ्यू की तरह ही समझें। पीएम मोदी ने राष्ट्र के नाम संबोधन में कहा कि हिंदुस्तान को बचाने के लिए, हर नागरिक को बचाने के लिए, आपके परिवार को बचाने के लिए घरों से बाहर निकलने पर पूरी तरह पाबंदी लगाई जा रही है। देश के हर राज्य को हर केंद्रशासित प्रदेश, गली-मुहल्ले को लॉकडाउन किया जा रहा है। यह एक तरफ से कर्फ्यू ही है। यह जनता कर्फ्यू से बढ़कर है।

संपूर्ण देश को लॉकडाउन की आर्थिक कीमत चुकानी होगी. देश आर्थिक रुप से खासा पिछड़ जाएगा लेकिन हर देशवासी की सुरक्षा के लिए जरूरी है।

पीएम मोदी ने एक बैनर के जरिए देशवासियों से अपील की कि वह अपने घरों के बाहर लक्ष्मण रेखा खींच दें और अगले 21 दिनों तक इसका पालन करें। बैनर में लिखा था कि को: कोई रो: रोड पर ना: न निकले।

उन्होंने कहा कि घर से बाहर नहीं जाना है, कोरोना को हराना है.याद रखें जान है तो जहान है। पीएम मोदी ने कहा कि कोरोना के लक्षण स्वस्थ आदमी के अंदर नजर आने में कई दिन लग जाते हैं। जोकि कई और लोगों को इस संक्रमण की चपेट में ला सकता है। पहले एक लाख लोग संक्रमित होने में 67 दिन लगे और 2 लाख लोगों के संक्रमित होने में 11 दिन लगे और तीन लाख की संख्या होने में सिर्फ 4 दिन का समय लगा। यह जब फैलना शुरू करता है तो इसका रोकना बहुत ज्यादा मुश्किल होता है। इसी कारण अमेरिका, इटली, फ्रांस और चीन जैसे देशों में इसने विकराल रुप ले लिया।

पीएम मोदी ने कहा भारत आज उस स्टेज पर है जहां हमारे आज के संकल्प तय करेंगे कि आने वाले समय में इस महामारी को कितना रोक सकते हैं।  प्रधानमंत्री से लेकर गांव के छोटे से नागरिक तक सोशल डिस्टेंसिंग जरूरी है। इसकी चेन को तोड़ना है। पीएम मोदी ने कहा देश अगर 21 दिन नहीं संभला तो 21 सालों के लिए पीछे हो जाएगा। देश के लोगों के लिए अगले 21 दिन काफी महत्वपूर्ण हैं। देशवासी जहां हैं वहीं रहें।

पीएम मोदी ने कहा कि आवश्यक सामानों के लिए उपाय किए जा रहे हैं। उन पुलिसकर्मियों और मीडियाकर्मियों के लिए प्रार्थना कीजिए जो इस मुश्किल की घड़ी में दिन रात काम कर रहे हैं ताकि आप सब सुरक्षित रहें।

पीएम मोदी ने कहा कि इस महामारी ने कई देशों को अपनी चपेट में ले लिया। ऐसा नहीं है कि देशों ने इसके खिलाफ कोई रणनीति नहीं अपनाई या फिर तैयारी नहीं की। लेकिन यह इतनी तेजी से फैलता है कि इसे संभालना मुश्किल हो जाता है।


    Comments

    • Medhaj News
      Updated - 2020-03-29 14:28:33
      Commented by :take cialis l2

      Plunge Unbroken: Antithesis strays Dblvckz Canadian sildenafil 50mg buy ed pills


    • Medhaj News
      Updated - 2020-03-26 05:12:24
      Commented by :fasofay

      Liberal down on an outermost sterling cracker bind of a buy off generic viagra etching Potency and sildenafil tablets these sits the bodyРІs throw-away


    • Load More

    Leave a comment



    Similar Post You May Like

    Trends