कार्यकाल के अंतिम पड़ाव पर राष्ट्रपति ने खारिज की 2 दया याचिका, नहीं दिखाई बिल्कुल नर्मी

Medhaj News 17 Jun 17,22:17:49 Ajab Gajab
pranab.jpg

भारत के राष्ट्रपति ‘प्रणब मुखर्जी’ के कार्यकाल में बस कुछ दिन और बचे हैं... 24 जुलाई को उनका कार्यकाल खत्म हो जाएगा जबकि राष्ट्रपति पद का चुना 17 जुलाई को होना है। अपना पद छोड़ने से पहले राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने 2 दया याचिका को खारिज कर दिया है.. इन दो दया याचिका को खारिज करने के बाद अब-तक खारिज की गई कुल दया याचिका की संख्या 30 हो गई है।

राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के द्वारा खारिज की गई ये याचिका मई के आखिरी हफ्ते में की गई थी। दोनों ही दया याचिका बलात्कार मामले से संबंधित थी।

आइए जानतें हैं... किन-दो याचिकाओं पर नहीं दिखाई राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने नर्मी-

पहला केस साल 2012 का है... इंदौर में एक चार साल की बच्ची के साथ बलात्कार कर उसकी हत्या कर दी गई। इस केस में आरोपियों केतन, जीतू और सनी को दोषी पाया गया था।

दूसरा केस पुणे का है... यहां एक कैब ड्राइवर पर अपने साथी के साथ मिलकर युवती के साथ बलात्कार व हत्या करने का आरोप है। पुरुषोत्म दसरख बोरेट और प्रदीप यशबंद कोकडे दोनों ने मिलकर विप्रो में काम करने वाली 22 वर्षीय युवती का बलात्कार कर उसकी हत्या कर दी थी। इस केस में उन्हें दोषी पाकर फांसी की सजा सुनाई गई है।  

    मेधज न्यूज़ के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक करें। आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं।

    loading...

    Similar Post You May Like