नई रिर्सच: दिल की कमजोरी का संकेत है असमय बालों का सफेद होना

medhaj news 7 Dec 17 , 06:01:37 Governance
depressed.jpg

उम्र से पहले बालों का सफेद होने कमजोर दिल की निशानी होती है। जी हां एक नए अध्ययन के मुताबिक जिन पुरूषों के बाल उम्र से पहले सफेद होने लगते हैं, उन्हें दिल की बीमारी की चपेट में आने का खतरा सामान्य पुरूषों से अधिक होता है। 
नए अध्ययन में कहा गया है कि धमनियों की आंतरिक दीवारों पर वसा के जमाव और बालों के सफेद होने की जैविक प्रक्रिया में काफी समानताएं होती हैं। आयु के बढ़ने के साथ ही दोनों में बढ़ोतरी होती है। बिगड़ा हुए दाहक तनाव, सूजन, हार्मोन संबंधी परिवर्तन और कार्यशील कोशिकाओं में उम्रदराजी के लक्षण जैसी चीजें इन प्रक्रियाओं में समान रूप से मौजूद रहती हैं।


मिस्र की काहिरा यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं सैकड़ों वयस्क लोगों का अध्ययन करने के बाद यह नतीजा निकाला है। इन सभी प्रतिभागियों की धमनियों की अंदरुनी स्थिति की सीटी कोरोनरी एंजियोग्राफी तकनीक के जरिये जांच की गई थी। ताकि यह पता लग सके कि इन्हें दिल की बीमारी तो नहीं है अथवा इनके दिल की प्रमुख रक्त वाहिनियों में कोई क्षतिग्रस्त तो नहीं हैं।
शोधकर्ताओं ने दिल बीमारी और बालों में बालों में धूसरपन या सफेदी की मात्रा के आधार पर प्रतिभागियों को दो हिस्सों में विभाजित किया गया।
कई तरह के टेस्ट के बाद पता चला कि जिन लोगों के बाद ज्यादा सफेद हो रहे थे उनमें दिल की बीमारी का खतरा ज्यादा था। उम्र और दिल की बीमारी से जुड़े कारकों का इसमें अलग से कोई प्रभाव नहीं था।   

शोधकर्ताओं ने बताया कि उनके शोध से पता चला कि वास्तविक उम्र कम होने के बावजूद बालों में सफेदी व्यक्ति की बढ़ी हुई जैविक उम्र को बयान करती है। यह दिल की बीमारी की चेतावनी का संकेत हो सकता |

    मेधज न्यूज़ के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक करें। आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं।

    ...
    loading...

    Similar Post You May Like