Tips: बढ़ते प्रदूषण से यूं रखें अपना खास ख्याल

Medhaj News 17 Nov 17,22:58:21 Health
pollution_news.jpg

वायु प्रदूषण के कारण सांसों से संबंधित और अनेक बीमारियों का खतरा बढ़ गया है। ऐसे में खुद को सुरक्षित रखने के लिए लोग तमाम उपाय कर रहे है। मास्क लगा कर घर से निकल रहे हैं लेकिन बाहर के साथ घर में भी वातावरण प्रदूषित होता है, तो आप कुछ उपाय करके अपने घर और आसपास के वातावरण में शामिल प्रदूषण को कम कर सकते है और प्रदूषण से खराब हो रही सेहत को भी बचा सकते है।

आइए जानते है, इन उपायों के बारे में...

गुड़ का करें इस्तेमाल- गुड़ फेफड़ों से प्रदूषित कण को साफ करने में काफी कारगर साबित होता है। इसलिए अपनी डाइट में गुड़ जरूर शामिल करें।

घर में इनडोर प्लांट लगाएं- इनडोर प्लांट आसपास मौजूद प्रदूषण को साफ करते है और वहां की हवा को प्रदूषण को मुक्त बनाते है। इनडोर प्लांट में एरिका पाम, रबर प्लांट और पीस लिली प्रमुख है। इन पौधों से आपको साफ हवा भी मिलेगी और घर की खूबसूरती भी बढ़ेगी।

हल्दी और शहद का करे इस्तेमाल- प्रदूषण से बचने के लिए हल्दी और शहद का सुबह- सुबह नियमित रूप से सेवन करें। इसके लिए सुबह 1 कप पानी में आधा चम्मच हल्दी पाउडर उबालें और उस पानी में आधा चम्मच शहद मिलाकर पिएं।

कपूर जलाएं- कपूर हवा में मौजूद दूषित कणों को काटता है। इसलिए घर और आसपास मौजूद वायु प्रदूषण को दूर करने के लिए कपूर जलाएं। 1बार में थोड़ी मात्रा में कपूर जलाएं।

पीपली का काढ़ा- सांसों की तकलीफ से राहत दिलाने में पीपली के काढ़े का महत्व है। इसके लिए आपको 1गिलास पानी में एक चुटकी पीपली पाउडर, एक चुटकी हल्दी पाउडर और अदरक का छोटा सा टुकड़ा डालकर उबालना है और जब पानी जलकर आधा रह जाएं तो उसमें आधा चम्मच शहद मिलाकर रोज पीएं।

नाक में अणु तेल डालें- प्रदूषण के कारण यदि आपको साइनस होता है या आपकी नाक बंद हो जाती है तो अणु के तेल की रात के समय में तेल की 2 बूंदें नाक में डालें अगर आपको यह न मिलें तो आप इतनी ही मात्रा में गाय के शुद्ध घी का भी इस्तेमाल कर सकती है।

यूकल्पिटस या एसेंशियल तेल का भाप- जिन्हें सांस की तकलीफ है, उन्हें यूकल्पिटस तेल की भाप से काफी राहत मिलेगी। यह बंद नाक को आसानी से खोल सकती है। इसके लिए खौलते पानी में दोनों में से किसी भी तेल की 4-5 बूंदें डालकर उसकी भाप लें।

 

    मेधज न्यूज़ के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक करें। आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं।

    ...
    loading...

    Similar Post You May Like