कांग्रेस का बुराहाल, उम्मीदवारों की जमानत जब्त

medhaj news 15 Mar 18 , 06:01:38 India
M_Id_375814_Rahul_Sonia_Gandhi.jpg

यूपी की गोरखपुर और फूलपुर लोकसभा सीट पर हुए उपचुनाव के नतीजों ने सबको चौंका दिया है|  जिसमे यूपी उपचुनाव में बीजेपी को तगड़ा झटका लगा है| हालांकि इन नतीजों से सपा और बसपा के खेमे में उल्लास का माहौल है, लेकिन कांग्रेस बीजेपी की हार देखकर भी जश्न नहीं मना पा रही है|  वजह यह है कि दोनों सीट पर उसके उम्मीदवारों की जमानत जब्त हो गई है|  कांग्रेस का कहना है कि बीजेपी जनता में अपना भरोसा खो रही है, जो गोरखपुर और फूलपर उपचुनाव के नतीजे साफ कर रहे हैं| कांग्रेस का कहना है कि दोनों सीटों की मतगणना सपा-बसपा गठबन्धन की मिली बढ़त कांग्रेस के लिए भी शुभ संकेत है, जो प्रदेश में सियासत की नई शुरुआत का आधार बन सकते हैं|
फूलपुर सीट पर बीजेपी से कौशलेंद्र पटेल, बसपा समर्थित सपा प्रत्याशी नागेंद्र पटेल, कांग्रेस के मनीष मिश्रा और निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर अतीक अहमद मैदान में थे|  2014 के लोकसभा चुनाव में यहां केशव प्रसाद मौर्या जीते थे. लेकिन यूपी के डिप्टी सीएम की जिम्मेदारी मिलने के बाद इस सीट से उन्होंने इस्तीफा दे दिया था|
फूलपुर लोकसभा सीट पर सपा के उम्मीदवार नागेंद्र पटेल ने 59,613 वोटों से बीजेपी उम्मीदवार कौशलेंद्र पटेल को हराया है|  ये हार यूपी के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्या के लिए बड़ा झटका है. निर्दलीय प्रत्याशी के तौर पर लड़े पूर्व सांसद और बाहुबली अतीक अहमद को अतीक़ के मिले 48,087 मत मिले|  कांग्रेस प्रत्याशी मनीष मिश्रा को 19,334 वोट मिले और उनकी जमानत जब्त हो गई. यहां 7,29,991 कुल मत डाले गए थे.
वहीं, गोरखपुर के रिजल्ट ने सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और भारतीय जनता पार्टी को बड़ा झटका दिया है. सुबह से ही समाजवादी पार्टी के उम्मीदवार प्रवीण निषाद बढ़त बनाए हुए हैं. हालांकि, 20 से 25 राउंड की काउंटिंग के बाद प्रवीण निषाद की बढ़त में अचानक गिरावट आई थी, लेकिन 27 राउंड के बाद उन्होंने फिर रफ्तार पकड़ ली है|
29वें राउंड की मतगणना के बाद सपा उम्मीदवार प्रवीण निषाद 24,723 वोटों से आगे रहे. इस राउंड तक सपा उम्मीदवार को कुल 4,21,117 वोट मिले, जबकि बीजेपी उम्मीदवार उपेंद्र शुक्ल को 4,10,806 वोट मिले. वहीं गोरखपुर लोकसभा सीट से कांग्रेस उम्मीवार डॉक्टर सुरहिता करीम की यहां भी जमानत जब्त होने वाली स्थिति है|

    मेधज न्यूज़ के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक करें। आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं।

    ...
    loading...

    Similar Post You May Like


    Trends