बीजेपी नेता की गोशाला में 30 गायों की मौत, मछली के चारे के रूप में बेचता था उनकी खाल...

Medhaj News  |  India  |  19 Aug 17,10:58:50  |  
gaushala_news.jpg

जहां एक राज्य में बीजेपी सरकार गायों की रक्षा करने हेतु बड़े-बड़े वादे करती है, वहीं दूसरे राज्य में बीजेपी नेता की ही गोशाल में बड़ी संख्या में गायों की मौत हो जाती है। जी हां, यह ताजा मामला सामने आया है छत्तीसगढ़ के दुर्ग से जहां बीजेपी नेता हरीश वर्मा की शगुन गोशाल में दो दिन में 30 गायों की मौत हो गई है।

जब मामला सामने आया और इसकी छानबीन की गई, तो मालूम चला कि बीजेपी नेता मरी हुई गायों की खाल उतारकर मछलियों के चारे के रूप में डाल देता था।  

छत्तीसगढ़ राज्य गोसेवा आयोग ने गोशाला को जांचने के बाद उनके खिलाफ मामला दर्ज कराया है और वर्मा की गिरफ्तार भी की जा चुकी है। गायों की मौत का कारण गोशाला में अच्छी सुविधाओं का न होना बताया जा रहा है। गायों की मौत की मौत का कारण कुपोषण व भुखमरी भी है।

गौरतलब है कि पहले इस गोशाला में 15 गायों की मौत का मामला सामने आया था, जब गोशाला का संचालक उन मरी गायों को दफना रहा था तभी गांववासियों को इस बारे में पता चला। शुक्रवार को गोसेवा आयोग के अध्यक्ष बिसेसर पटेल वहां पहुंते, तब 3 और गायों की मौत हो चुकी थी। उसके बाद 569 गायों को उस गोशाला से निकालने का आदेश दिया।

शगुन गोशाला को गायों के रख-रखाव व पोषण के लिए साल 2010 से लेकर अब तक 93 लाख 63 हजार रूपए अनुदान दिया गया है। हालांकि, गोशाला संचालक ने उस राशि का दुरुपयोग किया और गायों की यह दशा कर दी। 

    मेधज न्यूज़ के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक करें। आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं।

    loading...