अगले साल देश में लोकसभा के साथ हो सकते हैं 11 राज्यों में विधानसभा चुनाव

medhaj news 14 Aug 18 , 06:01:38 India
BJP.jpg

एक देश-एक चुनाव को लेकर भाजपा अगले साल लोकसभा चुनाव के साथ 11 भाजपा शासित राज्यों में विधानसभा चुनाव करवाने पर विचार कर रही है। पार्टी के एक वरिष्ठ नेता ने नाम न जाहिर करने की शर्त पर न्यूज एजेंसी को बताया कि भाजपा कुछ राज्यों में इस साल होने वाले विधानसभा चुनावों को देर से करवाने और अगले साल होने वाले विधानसभा को जल्दी कराने की संभावनाएं तलाश रही है। ऐसे में अगले साल होने वाले लोकसभा चुनाव के साथ ही इन चुनावों को भी संपन्न कराया जा सकेगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भाजपा के सरकार बनाने के बाद से ही एक देश-एक चुनाव की बात पर जोर दे रहे हैं।



 मध्यप्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ सरकारों का कार्यकाल जनवरी 2019 में खत्म हो रहा है। यहां भाजपा की सरकार है और वे लोकसभा चुनाव के साथ विधानसभा चुनाव के पक्ष में हैं। मिजोरम सरकार का कार्यकाल दिसंबर 2018 में खत्म हो रहा है। हालांकि, यहां अभी कांग्रेस की सरकार है। केंद्र सरकार हरियाणा, झारखंड और महाराष्ट्र के चुनाव कुछ महीने पहले करवाने पर विचार कर रही है। यहां भाजपा की सरकार है। इसके अलावा बिहार में 2020 में विधानसभा चुनाव होने हैं। यहां भाजपा एनडीए की सहयोगी जद-यू के साथ सत्ता में है। जद-यू कई मंचों से विधानसभा और लोकसभा चुनाव एकसाथ कराने की बात कह चुकी है। आंध्रप्रदेश, ओडिशा और तेलंगाना में विधानसभा चुनाव आम चुनाव के साथ ही होते हैं। जम्मू-कश्मीर में अभी राज्यपाल शासन लागू है। 



भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने सोमवार को 'एक देश-एक चुनाव' के समर्थन में लॉ कमीशन को चिट्ठी लिखी। शाह ने लिखा- देश में मौजूदा समय में कहीं न कहीं चुनाव होते रहते हैं। इसके चलते न केवल राज्य सरकारों, बल्कि केंद्र सरकार के विकास कार्य भी रुक जाते हैं। बार-बार चुनाव से काफी पैसा भी खर्च होता है। प्रशासन पर भी बोझ पड़ता है। इसे कम करने के लिए देश में एक चुनाव की जरूरत है।


    Comments

    Leave a comment


    Similar Post You May Like