विश्व प्रसिद्ध महान वैज्ञानिक स्टीफन हॉकिंग का हुआ निधन कई दिनों से थे बीमार

medhaj news 14 Mar 18 , 06:01:38 India
stephen_hawking.jpg

 

लंदन : विश्‍व के महान भौतिकी और ब्रह्मांड विज्ञानी स्‍टीफन हॉकिंग के 76 साल की उम्र में निधन होने की खबर बुधवार सुबह आने पर दुनिया में शोक की लहर छा गई. स्‍टीफन हॉकिंग नेे अपने जीवन में अंतरिक्ष के कई रहस्‍यों पर से पर्दा उठाया और दुनिया को अंतरिक्ष से संबंधी कई अहम सिद्धांत दिए. यह संयोग ही है कि महान वैज्ञानिक अल्‍बर्ट आइंसटीन की जन्‍म तिथि के दिन ही स्‍टीफन हॉकिंग का निधन हुआ|

  • स्टीफन हॉकिंग का जन्म 8 फरवरी 1942 को हुआ. 
  • स्टीफन के पिता फ्रेंक ने आयुर्विज्ञान और माता इसाबेल ने दर्शनशास्त्र, अर्थशास्त्र और राजनीति में शिक्षा प्राप्त की. दोनों की शिक्षा ऑक्सफ़र्ड विश्वविद्यालय में हुई.
  • स्‍टीफन हॉकिंग गणित की पढ़ाई करना चाहते थे. लेकिन उनके पिता उन्‍हें मेडिसिन की पढ़ाई करवाना चाहते थे. ऑक्‍सफोर्ड के यूनिवर्सिटी कॉलेज में गणित न होने के कारण उन्‍होंने भौतिकी की पढ़ाई शुरू की.
  • स्टीफन हॉकिंग ने अपने जीवन में 12 डिग्रियां लीं.   
  • 1965 में पहली शादी जेन विल्‍डे से की. 1995 में तलाक दिया. 1995 में दूसरी शादी अपनी नर्स एलेन मेसन से की. 2007 में उनसे तलाक हुआ. स्‍टीफन के तीन बच्‍चे हैं. 
  • ब्लैक होल और बिग बैंग थ्योरी को समझने में उन्होंने अहम योगदान दिया है। उनके पास 12 मानद डिग्रियां हैं और अमरीका का सबसे उच्च नागरिक सम्मान उन्हें दिया गया। 1974 में ब्लैक हॉल्स पर किए गए उनके रिसर्च ने इस पर आधारित थ्योरी को ही मोड़ दिया था। उनकी ‘अ ब्रीफ हिस्ट्री ऑफ टाइम’ किताब दुनियाभर में बेहद पसंद की गई थी।
  • स्टीफन हॉकिंग को उनके कामों के लिए 1979  में अलबर्ट आइंस्टाइन मेडल, 1982 में द ऑर्डर ऑफ द ब्रिटिश एम्पायर (कमांडर) और 1988 में भौतिक विज्ञान में वॉल्फ प्राइज से सम्मानित किया गया. 
  • ब्लैक होल और बिग बैंग थ्योरी को समझने में उन्होंने अहम योगदान दिया है। उनके पास 12 मानद डिग्रियां हैं और अमरीका का सबसे उच्च नागरिक सम्मान उन्हें दिया गया। 1974 में ब्लैक हॉल्स पर किए गए उनके रिसर्च ने इस पर आधारित थ्योरी को ही मोड़ दिया था। उनकी ‘अ ब्रीफ हिस्ट्री ऑफ टाइम’ किताब दुनियाभर में बेहद पसंद की गई थी।
  • स्टीफन हॉकिंग को उनके कामों के लिए 1979  में अलबर्ट आइंस्टाइन मेडल, 1982 में द ऑर्डर ऑफ द ब्रिटिश एम्पायर (कमांडर) और 1988 में भौतिक विज्ञान में वॉल्फ प्राइज से सम्मानित किया गया. 

    मेधज न्यूज़ के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक करें। आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं।

    ...
    loading...

    Similar Post You May Like


    Trends