अंतरराष्‍ट्रीय योग दिवस: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 55 हजार लोगोंं के साथ मनाया योग दिवस

Medhaj news 21 Jun 18 , 06:01:38 India
Day_of_Yoga.jpg

चौथे अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज (गुरुवार को) उत्तराखंड की राजधानी देहरादून मेें हिमालय की गोद में स्थापित वन अनुसंधान संस्थान (एफआरआई) में योग किया। पीएम के साथ करीब 55 हजार लोगोंं ने योग किया, इस कार्यक्रम में राज्‍य के मुख्‍यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत भी मौजूद रहे।
योग करने से पहले पीएम मोदी ने कहा कि 'बिखराव के बीच योग जोड़ने का काम करता है। दुनियाभर के योग प्रेमियों को चौथे अंतरराष्‍ट्रीय योग दिवस पर बधाई। उत्‍तराखंड शुरू से योग का अहम केंद्र रहा है, दुनियाभर में योग दिवस भारत के लिए गर्व का विषय है। विश्‍व का हर देश योग को अपना मानने लगा है'। इस अवसर पर त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि 'अटल जी ने बनाया और मोदी जी उत्‍तराखंड को संवार रहे हैं'।

पीएम मोदी ने व्यक्त किये अपने विचार:
मां गंगा की इस पवित्र भूमि पर जहां चार धाम स्थित है, जहां आदि शंकराचार्य के चरण पड़े, जिस भूमि ने स्वामी विवेकानंद को बार-बार आकर्षित किया। वहां योग दिवस के मौके पर हम सभी का होना ये किसी सौभाग्य से कम नहीं है। दुनिया के हर हिस्से में लोग योग का स्वागत कर रहे हैं। योग समाज और लोगों को जोड़ने का काम करता है। दुनिया का हर व्‍यक्ति अब योग को अपना मानने लगा है। योग दिवस को यूएन में सबसे कम दिनों में मान्‍यता मिली। देहरादून से लेकर डबलिन तक, शिकागो से लेकर शंघाई तक योग ही योग है। दुनियाभर में योग कई बीमारियों को दूर कर रहा है, दुनियाभर में योग की स्‍वीकार्यता बेहद तेजी से बढ़ रही है। नियमित योग का अभ्‍यास किसी भी प्रकार के मेडिकल खर्चे का भी कम करता है, हम सभी का स्‍वस्‍थ रहना आवश्‍यक है। आज के दिन मेरा आपसे आग्रह है कि जो लोग योग के साथ जुड़े हैं वे नियमितता लाएं और जो योग से नहीं जुड़े हैं, वो इससे जुड़ने का प्रयास जरूर करें। योग आज दुनियाभर में जन आंदोलन बन चुका है। योग ने दुनिया को illness से Wellness का रास्‍ता दिखाया

आयुष मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार, पूरे देश में अंतरराष्ट्रीय योग दिवस मनाने के लिए करीब 5000 आयोजन किए जा रहे हैं। इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर होने वाले मुख्य कार्यक्रम में भाग लेने के लिए बुधवार रात को देहरादून पहुंचे. उधर, अंतरराष्‍ट्रीय योग दिवस के मौके पर आज कई केन्द्रीय मंत्री देशभर में योग कार्यक्रमों में शामिल हो रहे हैं। केंद्रीय मंत्री राजनाथ सिंह, नितिन गडकरी, सुरेश प्रभु, उमा भारती, रामविलास पासवान, रविशंकर प्रसाद क्रमश : लखनऊ, नागपुर, चेन्नई, रुद्रप्रयाग, हाजीपुर और पटना में कार्यक्रमों में शामिल होंगे।
इसके अलावा अन्य मंत्री अनंत कुमार, जे पी नड्डा, नरेंद्र सिंह तोमर, पीयूष गोयल और प्रकाश जावडेकर क्रमश : बेंगलुरू, शिमला, ग्वालियर, नोएडा और मुंबई में आयोजित योग कार्यक्रम में जाएंगे। योग दिवस पर कल दुनियाभर में योग संबंधी कार्यक्रम आयोजित किये जाएंगे। इस मौके पर प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि योगासन भारतीय ऋषियों द्वारा मानवजाति को दिये गये सबसे अनमोल उपहारों में से एक है।
उल्‍लेखनीय है कि आज साल के सबसे लंबे दिन यानी 21 जून को पूरी दुनिया में अंतरराष्ट्रीय योग दिवस मनाया जा रहा है। संयुक्त राष्ट्र महासभा ने दिसंबर 2014 में घोषणा की थी कि हर साल 21 जून को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस मनाया जाएगा। इस दिन का महत्व इसलिए भी है कि 21 जून साल का सबसे लंबा दिन होता है। दरअसल, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ही 27 सितंबर 2014 को संयुक्त राष्ट्र महासभा में पूरी दुनिया में योग दिवस मनाने का आह्वान किया था। योग दिवस से पहले प्रधानमंत्री ने विभिन्न योगासनों वाली तस्वीरें सोशल मीडिया पर भी साझा कीं. उन्होंने दुनियाभर में विभिन्न स्थानों पर योग करते लोगों की तस्वीरें भी डालीं। मोदी ने इससे पहले 2015 में नई दिल्ली के राजपथ , 2016 में चंडीगढ के कैपिटल कांप्लैक्स और 2017 में लखनऊ के रामाबाई अंबेडकर सभा स्थल में योग कार्यक्रमों में भाग लिया था

    मेधज न्यूज़ के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक करें। आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं।

    ...

    Similar Post You May Like