UN की आलोचना पर बोले किरण रिजिजू, ‘रोहिंग्या मामले में भारत की छवि की जा रही धूमिल’

Medhaj News 13 Sep 17 , 06:01:37 India
kiren_rijiju.jpg

रोहिंग्या मुसलमान पर भारत की निंदा करने वाले संयुक्त राष्ट्र पर किरण रिजिजू का बयान, ‘इन आलोचनाओं में देश की सुरक्षा को नजरंदाज नहीं किया जा सकता’

रोहिंग्या मुसलमानों को लेकर आये दिन बयानबाजी की जा रही है। आज इन्ही बयानबाजी को लेकर गृह राज्य मंत्री किरण रिजीजू ने बयान दिया है। किरण रिजीजू ने रोहिंग्या मामले में भारत की ‘खलनायक’ जैसी छवि बनाने की कोशिशों की आलोचना की। उन्होंने कहा कि यह देश की छवि धूमिल करने की सोची समझी कवायद है।

हाल ही में संयुक्त राष्ट्र में भी इसको लेकर भारत को घेरा गया। संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार प्रमुख जेड राद अल हुसैन द्वारा म्यांमार के रोहिंग्या शरणार्थियों को भारत से वापस भेजने की आलोचना की थी। आज इसी पर किरण रिजीजू ने अपने ट्वीटर के माध्यम से करारा जवाब दिया है।

किरण रिजीजू ने कहा है कि गौरकानूनी तरीके से भारत में प्रवेश करने वाले रोहिंग्या समुदाय के लोगों के मामले में भारत की आलोचनाओं में देश की सुरक्षा को नजरंदाज किया गया है। उन्होंने लिखा, “इस मामले में भारत को खलनायक बताना भारत की छवि को धूमिल करने की सोची समझी कवायद है। इन आलोचनाओं में भारत की सुरक्षा को नजरंदाज किया गया है।”

गौरतलब है कि हाल ही में हुसैन ने कहा था, “ऐसे वक्त में जब रोहिंग्या अपने देश में हिंसा का शिकार हो रहे हैं, तब भारत की ओर से उन्हें वापस भेजने की कोशिशों की मैं निंदा करता हूं।” अल हुसैन ने कहा था कि भारत में फिलहाल 40,000 के करीब रोहिंग्या शरणार्थी हैं, जिनमें से 16,000 लोगों के पास रिफ्यूजी डॉक्युमेंट्स हैं।  

    मेधज न्यूज़ के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक करें। आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं।

    ...
    loading...

    Similar Post You May Like


    Trends