महिला के पेट से डेढ़ किलो वजन के मंगलसूत्र, चूड़ियां और लोहे की कील निकली

Medhaj news 14 Nov 18 , 06:01:38 India
ahmadabad.PNG

मानसिक रूप से बीमार एक महिला के पेट से यहां सिविल अस्पताल में ऑपरेशन के बाद करीब डेढ़ किलो वजन के मंगलसूत्र, चूड़ियां और लोहे की कील निकाली गई हैं | एक सीनियर डॉक्टर ने मंगलवार को यह जानकारी दी | डॉक्टर ने बताया कि करीब 45 साल की महिला संगीता ‘एकुफेजिया’ नाम की एक दुर्लभ विकृति से ग्रस्त है जिसकी वजह से व्यक्ति धातु की चीजों को खाने लगता है | चिकित्सक ने बताया कि करीब 45 साल की महिला संगीता ‘एकुफेजिया' नाम की एक दुर्लभ विकृति से ग्रस्त है जिसकी वजह से व्यक्ति धातु की चीजों को खाने लगता है | अस्पताल के डॉक्टर नितिन परमार ने बताया कि करीब दो घंटे तक चले ऑपरेशन के बाद महिला के पेट से लोहे की कीलें, नट-बोल्ट, सेफ्टी पिन, यू-पिन, बालों में लगाने वाली पिन, कंगन, चूड़ियां, चेन, मंगलसूत्र समेत कई दूसरी चीजें भी निकाली गईं |

एक सरकारी मानसिक चिकित्सालय से महिला को यहां लाया गया था | सड़कों पर बेसुध घूमती मिलने के बाद महिला को मानसिक चिकित्सालय में भर्ती कराया गया था | डॉ. परमार ने कहा-उसने पेट में दर्द की शिकायत की थी | उसका पेट पत्थर की तरह कठोर था | एक्स-रे से खुलासा हुआ की उसके पेट में कई बाहरी चीजें हैं | सेफ्टी पिन उसके फेफड़ों में धंसी थीं और उसके पेट में भी इनसे छेद हो गया था |

22 जनवरी को सबरीमाला मंदिर मामले में SC करेगा पुनर्विचार

डॉक्टरों के मुताबिक एकुफेगिया बीमारी से ग्रसित व्यक्ति लोहा और धातु से बनी वस्तुओं को निगल जाता है | कोई भी वस्तु नुकीली हो या फिर न पचने वाली, बिना किसी परवाह के शख्स ऐसी चीजों को निगल लेता है | यह बीमारी आमतौर पर मानसिक रूप से विक्षिप्त व्यक्तिओं में पाई जाती है, जिन्हें खाने की वस्तुओं की सोच-समझ नहीं रहती | साल में ऐसी बीमारी के एक-दो केस ही आते हैं |

    मेधज न्यूज़ के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक करें। आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं।

    ...

    Similar Post You May Like