बड़े नेताओं की आरोपियों संग तस्वीर देख दंग रह गई पुलिस

मेधज न्यूज  |  India  |  19 Aug 17,14:13:55  |  
srijan_scam.jpg

बिहार में हुए 750 करोड़ रूपए के सृजन घोटाले में आए दिन नए- नए खुलासे हो रहे हैं, इसी कड़ी में एक नया खुलासा हुआ है। हाल ही में मनोरमा देवी की भागलपुर ज़िले के कुछ नए व पुराने ज़िलाधिकारियों के साथ फोटो सामने आए हैं, जिससे भागलपुर पुलिस सकते में आ गई है।

वहीं पूलिस का कहना है आरोपियों के साथ तस्वीर से कुछ साबित नहीं होता है, लेकिन तस्वीरें सृजन NGO की संस्थापक मनोरमा देवी से इन राजनेताओं के धनिष्ठ संबंधों को बताती है। और उनके बाद सृजन की सचिव बनीं बहू प्रिया और उनके पति अमित कुमार से उनके संबंधों को दर्शाती हैं।

इसे भी पढ़ें-गोरखपुर में योगी बोले, ‘दिल्ली में बैठा युवराज स्वच्छता अभियान के महत्व को नहीं समझ सकता’

बता दें, बिहार के भागलपुर जिले में 750 करोड़ रूपए का NGO घोटला सामने आया था। इसके तहत शहरी विकास के लिए भेजी गई यह राशि गैर-सरकारी संगठन खातों में पहुंचाई गई। जिसके लिए कई लोगों की गिरफ्तारी भी की गई है।

मामले की प्राथमिक जांच से उजागर हुआ है कि मुख्‍यमंत्री नगर विकास योजना के तहत भूमि अधिग्रहण के लिए सरकारी बैंकों में पैसा जमा हुआ, जोकि गैर-सरकारी संगठन सृजन महिला विकास सहयोग समिति के खाते में ट्रांसफर हो गया। यह संगठन वास्‍तव में उत्‍तरी बिहार के भागलपुर में स्थित है, जो महिलाओं को प्रशिक्षण और रोजगार उपलब्ध कराता है।

पुलिस के मुताबिक यह NGO एक को-ऑपरेटिव बैंक भी चलाता था और आरबीआई से बैंक के लाइसेंस के लिए अप्‍लाई किया था। इस मामले में गत गुरुवार को सृजन महिला सहयोग समिति के पदाधिकारियों, बैंक के पदाधिकारी, सरकारी कर्मी (जो खाते एवं उसके दस्तावेज की देख-रेख करता था), पर एफआईआर दर्ज की गयी थी।

इस केस में पुलिस ने कई लोगों को गिरफ्तार भी किया है। गौर देने वाली बात यह है कि ये सभी गिरफ्तारी छोटे अधिकारियों की ही हुई है।

    मेधज न्यूज़ के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक करें। आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं।

    loading...