थाई एयरवेज अपने नए प्लेन में नहीं बैठाएगी मोटे यात्रियों को

medhaj news 22 Mar 18 , 06:01:38 India
thai.jpg

बच्चों के साथ यात्रा करने वाले माता-पिता और मोटापे से ग्रस्त यात्रियों को थाई एयरवेज ने इकोनॉमी क्लास में भेज दिया है क्योंकि नए प्लेन की सीट बेल्ट उनकी कमर में फिट नहीं होती हैं। इस अंतरराष्ट्रीय एयरलाइन ने पिछले साल सितंबर में अपने बेड़े में दो नए ड्रीमलाइनर जेट विमानों को जोड़ा था।इसके बाद बिजनेस क्लास में बिजनेस क्लास में बच्चों के साथ और अधिक मोटे लोगों के उड़ान भरने पर प्रतिबंध लगा दिया। एयरलाइन ने कहा कि जिन यात्रियों की कमर की चौड़ाई 142 सेमी से अधिक हो गई है, वे विमान के बिजनेस क्लास में उड़ान नहीं भर पाएंगे क्योंकि इसकी सीट बेल्ट उन्हें नहीं बंधेंगी और एयरबैग की वजह से भी वह बैठ नहीं पाएंगे।थाई एयरवेज ने कहा था कि अगर यात्री अपनी सीट बेल्ट नहीं बांधते हैं, तो वे यूएस के सुरक्षा मानकों को तोड़ेंगे। एयरलाइन ने यह भी कहा कि यात्रियों की सुरक्षा के लिए शुरू की गई एयरबैग सुविधा के कारण सीट बेल्ट का विस्तार नहीं किया जा सकता है।इस नई सुविधा के शुरू होने का मतलब है कि जो माता-पिता अपने बच्चों को गोद में ले जाने का इरादा रखते हैं, वे बोइंग 787-9 'ड्रीम लाइनर' विमान में सफर नहीं कर सकेंगे। यह कदम उठाने वाली थाई एयरवेज पहली एयरलाइन नहीं है। फिनएयर ने पिछले साल अपने यात्रियों का वजन नापना शुरू कर दिया था।यूरोपीय विमानन सुरक्षा एजेंसी के मुताबिक, एक महिला यात्री का औसत वजन 64 किलो और पुरुष यात्री का औसत वजन 84 किलोग्राम होना चाहिए। पिछले साल जेटस्टार ने उन यात्री माता-पिता से 30 डॉलर से लेकर 50 डॉलर तक वसूल करना शुरू कर दिया था, जो अपने बच्चों को गोद में बिठाकर ले जाते हैं।



 


    Comments

    Leave a comment


    Similar Post You May Like