हरतालिका तीज 2018: इच्छा को पूरा करने के लिए करें ये उपाय , झट से बन जाएगी बात

Medhaj news 12 Sep 18,22:28:37 Lifestyle
hartalika_teej_100.jpg

लाख कोशिशों के बावजूद अगर आपका अपने पार्टनर से विवाद बना रहता है या फिर शादी के लिए कोई लड़का नहीं मिल रहा है तो माता पार्वती और भगवान शिव को मनाने वाले इस व्रत की मदद लें। आज शादीशुदा महिलाएं और कुंवारी लड़कियां अपनी हर इच्छा की पूर्ति के लिए हरतालिका तीज का व्रत रखती हैं। अगर आपके रिश्ते में भी कोई दिक्कत आ रही है तो इस दिन ये खास उपाय करने से आपको राहत मिल सकती है।ऐसी लड़कियां जिनकी शादी होने में काफी बाधाएं आ रही हो उन्हें इस दिन सुबह से ही निर्जल व्रत रखना चाहिए। इसके बाद प्रदोष काल में पीले वस्त्र पहनकर मंदिर जाएं। वहां शिवलिंग पर चंदन लगाकर जल अर्पित करें। माता पार्वती को कुमकुम अर्पित कर "ॐ पार्वतीपतये नमः" मंत्र का 108 बार जाप करें। माता पार्वती को चढ़ाया गया कुमकुम स्नान कर माथे पर जरूर लगाएं।ऐसी स्त्रियां जिन्हें अपने पति से प्रेम नहीं मिलता है वो इस व्रत को निर्जल रख कर शाम को सोलह श्रृंगार करके शिव मंदिर जाकर उन्हें इत्र और जल चढ़ाएं। इसके अलावा माता पार्वती को सिन्दूर और लाल चुनरी अर्पित करें। ऐसा करने के बाद ॐ गौरीशंकराय नमः का 108 बार जाप करना चाहिए। पूजा समाप्त करने के बाद माता पार्वती को अर्पित की हुई चुनरी में 11 रुपए बांध कर अपने पास रख लें।माना जाता है कि इस कठिन व्रत का बहुत बड़ा महत्त्व है। इस व्रत को करने से महिलाओं को माता पार्वती का आशीर्वाद प्राप्त होता है  और उनके पति को लंबी आयु प्राप्त होती है। इस दिन महिलाओं को क्रोध नहीं करना चाहिए। अपने गुस्से को शांत करने के लिए महिलाएं इस दिन हाथों में मेंहदी लगाती हैं। मेंहदी दिमाग को शांत रखने में मदद करती है।

व्रत के दिन पूरी रात जागकर भगवान की पूजा करनी चाहिए। मान्यता के अनुसार यदि व्रत रखने वाली महिला रात में सो जाती है तो वह अगले जन्म में उसे अजगर के रूप में जन्म लेना पड़ता है।हरितालिका तीज का व्रत पूरे मन से रखने वाली महिलाओं और कुंवारी कन्याओं को माता पार्वती से अखंड सौभाग्यवती और मनचाहे वर की प्राप्ति का वरदान मिलता है।

लाख कोशिशों के बावजूद अगर आपका अपने पार्टनर से विवाद बना रहता है या फिर शादी के लिए कोई लड़का नहीं मिल रहा है तो माता पार्वती और भगवान शिव को मनाने वाले इस व्रत की मदद लें। आज शादीशुदा महिलाएं और कुंवारी लड़कियां अपनी हर इच्छा की पूर्ति के लिए हरतालिका तीज का व्रत रखती हैं। अगर आपके रिश्ते में भी कोई दिक्कत आ रही है तो इस दिन ये खास उपाय करने से आपको राहत मिल सकती है।ऐसी लड़कियां जिनकी शादी होने में काफी बाधाएं आ रही हो उन्हें इस दिन सुबह से ही निर्जल व्रत रखना चाहिए। इसके बाद प्रदोष काल में पीले वस्त्र पहनकर मंदिर जाएं। वहां शिवलिंग पर चंदन लगाकर जल अर्पित करें। माता पार्वती को कुमकुम अर्पित कर "ॐ पार्वतीपतये नमः" मंत्र का 108 बार जाप करें। माता पार्वती को चढ़ाया गया कुमकुम स्नान कर माथे पर जरूर लगाएं।ऐसी स्त्रियां जिन्हें अपने पति से प्रेम नहीं मिलता है वो इस व्रत को निर्जल रख कर शाम को सोलह श्रृंगार करके शिव मंदिर जाकर उन्हें इत्र और जल चढ़ाएं। इसके अलावा माता पार्वती को सिन्दूर और लाल चुनरी अर्पित करें। ऐसा करने के बाद ॐ गौरीशंकराय नमः का 108 बार जाप करना चाहिए। पूजा समाप्त करने के बाद माता पार्वती को अर्पित की हुई चुनरी में 11 रुपए बांध कर अपने पास रख लें।माना जाता है कि इस कठिन व्रत का बहुत बड़ा महत्त्व है। इस व्रत को करने से महिलाओं को माता पार्वती का आशीर्वाद प्राप्त होता है  और उनके पति को लंबी आयु प्राप्त होती है। इस दिन महिलाओं को क्रोध नहीं करना चाहिए। अपने गुस्से को शांत करने के लिए महिलाएं इस दिन हाथों में मेंहदी लगाती हैं। मेंहदी दिमाग को शांत रखने में मदद करती है।

व्रत के दिन पूरी रात जागकर भगवान की पूजा करनी चाहिए। मान्यता के अनुसार यदि व्रत रखने वाली महिला रात में सो जाती है तो वह अगले जन्म में उसे अजगर के रूप में जन्म लेना पड़ता है।हरितालिका तीज का व्रत पूरे मन से रखने वाली महिलाओं और कुंवारी कन्याओं को माता पार्वती से अखंड सौभाग्यवती और मनचाहे वर की प्राप्ति का वरदान मिलता है।

ये भी पढ़े - Indian Government stepping towards strengthening of Power Sector

    मेधज न्यूज़ के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक करें। आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं।

    ...
    loading...

    Similar Post You May Like


    Trends