बिहार : अब ऊंची कीमत पर नहीं बिकेंगे बालू और पत्थर, खनन विभाग ने तय किए दाम

Medhaj News 18 Nov 17,22:06:13 Lifestyle
pattar.jpg

खनन विभाग के इस फैसले का बाद अवैध उत्खनन करके बालू और पत्थर बेचने वालों को झटका लगा है। क्योंकि सरकार ने बालू व पत्थर को बेचने के लिए दाम तय कर दिये हैं। अगर इसके बाद भी कोई बालू और पत्थर को मनमानी कीमत पर बेचता है तो उसके खिलाफ कार्यवाही भी की जा सकती है।

सरकार द्वारा बालू और पत्थर के लिए तय कीमतें

बिहार में पीला या लाल बालू के लिए कीमत 900 रुपये प्रति 100CFT तय हुआ है, जबकि सफेद बालू की कीमत 500 रुपये प्रति 100CFT निर्धारित हुई है।

विभाग ने पत्थर का दाम अभी तक पांच जिलो में ही तय किया है। विभिन्न जिले में अलग-अलग दाम रखा गया है। शेखपुरा जिले में बोल्डर के दाम 448 रुपये प्रति टन, औरंगाबाद में 463 रुपये प्रति टन, बांका में 425 रुपये प्रति टन, गया में 513 रुपये प्रति टन व नवादा में 4488 रुपये प्रति टन निर्धारित हुआ है।

बालू और पत्थर का व्यवसाय करने के लिए लाइसेंस होगा अनिवार्य

लखीसराय में बालू और पत्थर का खुदरा व्यवसाय करने के लिए लाइसेंस अनिवार्य कर दिया गया है। इसके बाद ही व्यापारी बालू और पत्थर का खुदरा व्यवसाय कर पायेंगे। हालांकि, इस लाइसेंस की मान्यता तीन साल तक ही होगी।

खनन विभाग में बालू और पत्थर का लाइसेंस के लिए फार्म जमा करने एवं फार्म लेने वालों की भीड़ खूब देखी जा रही है।

    मेधज न्यूज़ के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक करें। आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं।

    ...
    loading...

    Similar Post You May Like