2 रूपये के सिक्के से रोकते थे ट्रेन, फिर जो होता था जानकर हैरान हो जाएंगे आप....

Medhaj News 15 Nov 17,18:09:12 Lifestyle
train_robbary.jpg

ट्रेन में इन बदमाशों ने लूटपाट की कई घटनाओं को अंजाम दिया, सूरजपुर व रेलवे पुलिस ने संयुक्त अभियान के तहत ट्रेन में लूट करने वाले गिरोह के दो बदमाशों को गिरफ्तार किया है। पुलिस को पूछताछ के दौरान पता चला है कि बदमाशों के पास ट्रेन रोकने का नायाब तरीका है। जिससे वह ट्रेन को रोकते थे और लूटपाट को अंजाम देते थे।

इस तरह रोकते थे ट्रेन-

बदमाश ट्रेन की पटरी के बीच दो रुपये का सिक्का डाल कर अर्थिंग के जरिए हरे सिग्नल को लाल कर देते थे और ट्रेन चालक खतरा समझ कर ट्रेन को रोक देता था। ट्रेन रुकते ही बदमाश उसमें दाखिल हो जाते थे और सवारियों के साथ लूटपाट करते थे।

बदमाशों ने इन ट्रेनों मे दिया वारदातों को अंजाम-

बदमाश लगातार दिल्ली-हावड़ा रूट व मुरादाबाद रूट पर ट्रेनों में घुसकर लूटपाट की घटनाओं को अंजाम दे रहे थे। दादरी-अलीगढ़ रूट बदमाशों का साफ्ट टारगेट था। शिकायत के आधार पर पुलिस ने इन रूट पर लगे सीसीटीवी फुटेज खंगाले। फुटेज की मदद से एक बदमाश की पहचान हो गई। सोमवार रात भी बदमाश तिलपता कंटेनर डिपो के समीप एकत्र हुए थे और दादरी-अलीगढ़ रूट पर ट्रेन में यात्रियों से लूट की योजना थी। बदमाशों की लोकेशन के आधार पर तिलपता के समीप से दो बदमाशों को गिरफ्तार किया गया, जबकि दो मौके से भाग निकले। पकड़े गए बदमाशों की पहचान बुलंदशहर के रहने वाले राजन व दिनेश के रूप में हुई है। बदमाशों के पास से तमंचा, दो रुपये का सिक्का बरामद किया गया है। पुलिस ने बताया कि सभी बदमाश एक ही गांव के रहने वाले हैं।

हो सकता था बड़ा हादसा-

बदमाशों के द्वारा अपनाए गए नायाब तरीके से यात्रियों की जान खतरे में रहती है, क्योंकि पटरी के बीच में सिक्का लगाने से कई बार ट्रेन पटरी से भी उतर जाती है। यदि बदमाशों को समय पर नहीं पकड़ा जाता तो उनकी वजह से बड़ा ट्रेन हादसा हो सकता था।

 

    मेधज न्यूज़ के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक करें। आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं।

    ...
    loading...

    Similar Post You May Like