Movie Review: इंटरटेन के साथ-साथ एजुकेट भी करेगी ‘टॉयलेट: एक प्रेम कथा’

Medhaj News 11 Aug 17,19:52:26 Ajab Gajab
toilet.jpg
अक्षय कुमार और भूमि पेडनेकर की मोस्ट अवेटिड फिल्म ‘टॉयलेट: एक प्रेम कथा’ फिल्म आज सिनेमाघरों में रिलीज हो गई है। अपने अनोखे मुद्दे को लेकर यह फिल्म पिछले लम्बे समय से सुर्खियों में बनी हुई है। अगर आप इस वीकेंड इस फिल्म को देखने की प्लानिंग कर रहे हैं, तो एक बार जरूर पढ़ लें फिल्म का शॉर्ट रिव्यू।  

कहानी-

फिल्म की कहानी केशव (अक्षय कुमार) और जया (भूमि पेडनेकर) की है, केशव एक साइकिल की दुकान चलाता है। केशव अपने पड़ोस के गांव की रहने वाली जया को दिल दे बैठता है। जया भी केशव से प्यार करने लग जाती है और दोनों की शादी भी हो जाती है। शादी के बाद जया को पता चलता है केशव के घर में तो ‘शौचालय’ तक नहीं है। वह उससे घर में शौचालय बनाने को कहती है, केशव इस बारे में अपने पिता से बात करता है। लेकिन पंडित परिवार होने के चलते उसके पिता इसके लिए नहीं मानते वह कहते हैं ‘जिस आंगन में तुलसी की पूजा की जाती है, वहां शौचालय नहीं बन सकता।’ जया गुस्से में घर छोड़कर चली जाती है और घर में टॉयलेट बनाने की जिद्द पर अड़ जाती है। जया के प्यार मं पागल केशव भी प्रण ले लेता है वे जया के लिए शौचालय बनवा कर रहेगा। अब अंत में उसे इस काम में कामयाबी मिलती है या नहीं इसे देखने के लिए आपको नजदीकी सिनेमाघर का रूख करना पड़ेगा।

देखे या नहीं-

इंटरटेन के साथ-साथ यह फिल्म लोगों को एजुकेट भी करेगी, इसलिए आपको ये फिल्म जरूर देखनी चाहिए।   

 

    मेधज न्यूज़ के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक करें। आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं।

    loading...

    Similar Post You May Like