माइक्रोवेव ओवन से उत्सर्जित कार्बन डाइऑक्साइड वातावरण को करता है अत्याधिक नुक्सान

medhaj news 19 Jan 18 , 06:01:38 Power and Infrastructure
oven.jpg

एक शोध में ये पता पड़ा है की सालाना माइक्रोवेव अवन से निकली कार्बन डाइऑक्साइड गैस 70 लाख गाड़ियों से निकली कार्बन डाइऑक्साइड गैस के बराबर हानिकारक होती है | मेनचेस्टर यूनिवर्सिटी में हुए इस शोध में माइक्रोवेव अवन की हर एक्टिविटी को ध्यान में रखा गया। उसे इस्तेमाल करने से लेकर बंद करने तक यह कितनी कार्बन डाइऑक्साइड गैस रिलीज करता है इसपर गौर किया है। शोधकर्ताओं ने बताया कि ना केवल माइक्रोवेव के चलें का तरिका, बल्कि इसमें इस्तेमाल होने वाले पार्ट्स भी वातावारण के लिए हानिकारक साबित होते हैं| शोधकर्ताओं के अनुसार यूरोपीय संघ में हर साल माइक्रोवेव अवन से करीब 77 लाख टन कार्बन डाइऑक्साइड गैस निकलती है जो कि 'ग्लोबल वार्मिंग' को बढ़ावा देने वाली मानी जा रही है। शोधकर्ताओं ने आगे बताया कि यह गैस तकरीबन 68 लाख गाड़ियों से निकलने वाली कार्बन डाईऑक्साइड की मात्रा के बराबर है। इसके अलावा शोध के दौरान एक और हैरान कर देने वाला तथ्य सामने आया, जिसके अनुसार पूरे यूरोपीय संघ में प्रति वर्ष माइक्रोवेव करीब 9।4 टेरावाट बिजली प्रति घंटे का उपभोग करते हैं| बिजली की अधिक खपत करने से माइक्रोवेव का इस्तेमाल वातावारण पर दूसरा बड़ा अटैक कर रहा है। 

 

 

    मेधज न्यूज़ के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक करें। आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं।

    ...
    loading...

    Similar Post You May Like


    Trends

    Special Story