स्वदेशी उपकरणों से बने प्लांट्स खरीदना चाहती है NTPC, करेगी जेनरेशन एसेट्स में बढ़ोत्तरी

Medhaj News 27 Nov 17 , 06:01:37 Power and Infrastructure
NTPC_news.jpg

NTPC (National thermal power corporation) कोल बेस्ड पावर प्लांट्स की खरीदारी करके जेनरेशन एसेट्स में बढ़ोतरी करना चाहती है। जिसके लिए कंपनी कोयले से चलने वाली उन पावर स्टेशंस को एक्वायर कर सकती है, जो चीनी नहीं, बल्कि इंडियन इक्विपमेंट से बने होंगे और जिनकी जेनरेशन कॉस्ट भी कम होगी। इसके लिए कंपनी ने कोयले से चलने वाले पावर प्लांट्स ऑफर करने वाले प्रमोटरों, लेंडर्स या फाइनेंशियल इंटरमीडियरीज से बिड मंगाई हैं।

गौरतलब है कि बहुत से प्राइवेट प्लांट्स देश की सबसे बड़ी पावर प्रोड्यूसिंग कंपनी के इस प्लान से बाहर रह जाएंगे।

NTPC के इस फैसले पर कंपनी के अधिकारियों ने कहा

कंपनी के एक अधिकारी ने कहा कि पहले लगभग 50 प्रपोजल्स पर विचार करने के बाद वैल्यूएशन को लेकर मामला नहीं जमने पर बायआउट प्लान को ठंडे बस्ते में डाल दिया गया था। उन्होंने कहा, 'फ्रेश टेंडर में एसेट्स के वैल्यूएशन का जिक्र नहीं है। यह इंटरेस्टेड प्रमोटर्स की बिडिंग पर आधारित होगा। किसी भी सूरत में प्रति मेगावॉट कॉस्ट 3.5-4 करोड़ रुपये से ज्यादा नहीं होनी चाहिए।'

अन्य अधिकारी ने कहा, 'हमारे लिए बायआउट टर्नकी कॉन्ट्रैक्ट जैसा ही अच्छा होगा। लोकल कंटेंट का क्लॉज लगाने से चीन के उपकरणों से बने प्लांट्स दायरे से बाहर रहेंगे।' उन्होंने कहा कि टेंडर में यह नहीं कहा जाएगा कि प्लांट के पास कोयले की सप्लाई या पावर परचेज एग्रीमेंट होना जरूरी है।

NTPC के इस अधिकारी ने कहा कि कंपनी ने इस प्रपोजल के लिए कोई फंड अलॉट नहीं किया है लेकिन वह जरूरत के हिसाब रकम जुटा सकता है। मौजूदा फिस्कल ईयर के लिए कंपनी का 28000 करोड़ रुपये का कैपिटल एक्सपेंडिचर एस्टीमेट है।

NTPC के एक सीनियर अफसर के अनुसार कि कंपनी अपनी नजरें पिछले तीन साल में चालू हुए वैसे पावर प्लांट्स पर ही गड़ाए रखेगी जो किसी कोयले की खान के पास होगी और जिसकी पावर जेनरेशन कॉस्ट NTPC की कॉस्ट से कम होगी। NTPC की बिजली पैदा करने की औसत लागत पिछले फिस्कल ईयर में 3.19 प्रति यूनिट थी।

फिलहाल, NTPC के पास कोयले से चलनेवाले 28 प्लांट्स, गैस से चलने वाले 8 प्लांट्स, 13 रिन्यूएबल एनर्जी और हाइड्रो पावर प्लांट्स की 51,708 मेगावॉट की इंस्टॉल्ड कैपेसिटी है जबकि वह 20000 मेगावॉट के प्रोजेक्ट्स का निर्माण कर रही है। NTPC इस रिक्वेस्ट फॉर प्रपोजल के जरिए खरीदारी के लिए सही चालू हालत वाली कोल बेस्ड पावर एसेट्स को शॉर्टलिस्ट करना चाहती है।

बता दें, कंपनी की तरफ से यह प्रस्ताव उस समय आया है, जब सरकार पावर और स्टील जैसे सेक्टर की स्ट्रेस्ड लोन से जुड़ी समस्याएं सुलझाने में जुटी है और पावर मिनिस्ट्री 40 गीगावॉट की कंबाइंड कैपेसिटी के ऐसे 34 स्ट्रेस्ड एसेट की पहचान पहले ही कर चुकी है।

 

    मेधज न्यूज़ के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक करें। आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं।

    ...
    loading...

    Similar Post You May Like