छत्तीसगढ़: अब सरकारी बिजली कंपनी के लिए कोयला खनन करेगी अडानी की कंपनी

Medhaj News 17 Nov 17,22:15:14 Science & Technology
Adani_news.jpg

छत्तीसगढ़ स्टेट पॉवर जनरेशन कंपनी के इतिहास में पहली बार किसी कोल ब्लॉक के साथ कोल उत्खनन हेतु करार किया गया है। स्टेट सेक्टर के जितने कोल ब्लॉक आवंटित हुए हैं, उसमें यह प्रथम अनुबंध है। पॉवर कंपनी के अध्यक्ष शिवराज सिंह ने कहा कि देश भर में बिजली उत्पादन के क्षेत्र में कोयले का व्यापक उपयोग होता है।

इस दृष्टि से आज का अनुबंध जनरेशन कंपनी और छत्तीसगढ़ के विकास के लिए अत्यंत महत्वपूर्ण उपलब्धि है। आज हुआ समझौता हमें आशान्वित करता है कि छत्तीसगढ़ को पॉवर हब आफ इंडिया बनाने का हमारा सपना साकार होगा।

कोयला खनन के लिए लगाई गई बोली-

बिजली कंपनी ने कोयला उत्खनन हेतु प्रतिस्पर्धात्मक बोली आमंत्रित की गई थी। इसके आधार पर मेसर्स अडानी इंटरप्राइजेज लिमिटेड का चयन किया गया।

अडानी की कंपनी मेसर्स अडानी इंटरप्राइजेज लिमिटेड छत्तीसगढ़ की सरकारी बिजली उत्पादन  करने वाली CSPGC ( Chhattisgarh State Power Generation Company) के लिए कोयला खोदेगी। अडानी की कपंनी रायगढ़ स्थित गारे-पेल्मा सेक्टर- 3 में खोदाई करेगी। खनन के मामले में गारे-पेल्मा की क्षमता लगभग 94.7 मिलियन टन है। यहां से निकलने वाले कोयले की आपूर्ति बिजली कंपनी के मड़वा संयंत्र में की जाएगी।

अडानी कंपनी छत्तीसगढ़ में पहले से कर रही है खनन का काम-

छत्तीसगढ़ के सरगुजा में पहले से ही अडानी कंपनी देश के सबसे बड़ी खानों में से एक खान में उत्खनन का कार्य सफलतापूर्वक संचालित कर रही हैं। अडानी ग्रुप के ईडी व सीईओ विनय प्रकाश ने कहा, कि राज्य में निवेश करने के लिए दीर्घकालिक दृष्टि से यह अनुबंध न केवल हमारे लिए अपितु स्थानीय लोगों के सामाजिक-आर्थिक विकास सहित रोजगार की दृष्टि से महत्वपूर्ण सिद्ध होगा।

 

    मेधज न्यूज़ के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक करें। आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं।

    ...
    loading...

    Similar Post You May Like