अंतरमहाद्वीपीय बैलिस्टिक मिसाइल अग्नि-5 का सफलतापूर्वक हुआ परीक्षण

medhaj news 18 Jan 18,18:21:21 Science & Technology
drdo.jpg

ओडिसा के तट से भारत ने एक और कामयाबी हासिल करते हुए गुरूवार को अग्नि 5 का सफल परीक्षण कर दिया है। ओडिसा के अब्दुल कलाम द्वीप से अग्नि 5 को लॉन्च किया गया। परमाणु हथियार ले जाने में सक्षम इंटर कॉन्टिनेंटल बैलेस्टिक मिसाइल (ICBM) की मारक क्षमता 5 हजार किलोमीटर की है। यह मिसाइल चीन के सुदूर उत्तरी प्रांतों पर भी पहुंच बनाकर हमला कर सकती है। यह मिसाइल चीन के उत्तरी प्रांतों पर भी पहुंच बनाकर हमला करने में सक्षम है| अग्नि-5 मिसाइल को डिआरडीओ ने तैयार की है। पृथ्वी और धनुष जैसी कम दूरी तक हमला करने में सक्षम मिसाइलों के अलावा भारत के बेड़े में अग्नि-1, अग्नि-2 और अग्नि-3 मिसाइलें हैं, जिन्हें पाकिस्तान को ध्यान में रखकर तैयार किया गया था। अग्नि-4 और अग्नि-5 मिसाइलों को चीन को ध्यान में रखते हुए तैयार किया गया है। अग्नि-5 मिसाइल की ऊंचाई 17 मीटर और चोड़ाई 2 मीटर है। इसका वजन 50 टन और यह डेढ़ टन तक परमाणु हथियार ढोने में सक्षम है। इसकी स्पीड ध्वनि की गति से 24 गुना ज्यादा है। एक बार अग्नि-5 इंडियन वेपन्स में शामिल हो जाने के बाद, भारत भी अमेरिका, रूस, चीन, फ्रांस और यूके के साथ आईसीबीएम (5000 से अधिक 5,500 किलोमीटर की दूरी के साथ मिसाइल) वाले देशों के सुपर-एक्सक्लूजीव क्लब में शामिल हो जाएगा। इस बार डीआरडीओ ने अग्नि-5 को चीन के खतरों से निपचटने के लिए खास तौर से इस अत्याधुनिक मिसाइल को तैयार किया गया है।



 

    मेधज न्यूज़ के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक करें। आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं।

    ...
    loading...

    Similar Post You May Like


    Trends