Headline


सरकारी राशि से बने शौचालयों का मनमाना उपयोग

Medhaj News 24 Jul 19,15:29:18 Science & Technology
mpcg.jpg

देश के पीएम नरेंद्र मोदी स्वच्छता अभियान के अंतर्गत ज्यादा से ज्यादा शौचालयों निर्माण पर जोर दे रहे हैं, लेकिन शिवपुरी जिले में स्वच्छता अभियान के अंतर्गत बनाए जाने वाले शौचालयों को उपयोग लोग अपने-अपने ढंग से कर रहे हैं | शिवपुरी जिले के करैरा के सिलानगर पोखर आंगनबाड़ी केंद्र पर बनाए गए शौचालय का निर्माण यहां पर रसोई के रूप में किया जा रहा है | शौचालय को रसोई बनाने का मामला अजीब जरूर लगता है लेकिन करैरा के आंगनबाड़ी केंद्र में शौचलय बनाकर इसका रोज उपयोग बच्चों को मिड डे मील बनाने में हो रहा है | करैरा के सिलानगर पोखर का आंगनबाड़ी केंद्र में यहां छोटे-छोटे मासूम बच्चे बड़े मजे से मिड डे मील का स्वाद चख रहे हैं, लेकिन इन्हें नहीं मालूम कि जिस जगह ये भोजन बना है वो कभी शौचालय था | जब यह मामला सामने आया था अब आंगनबाड़ी केंद्र की कार्यकर्ता राजकुमारी योगी ने कहा कि यह बात सही है कि यहां पर शौचालय के एक हिस्से में खाना बनता है लेकिन वह समूह से कई बार कह चुकी हैं कि वह खाना अन्य जगह पर बनाए |





आंगनबाड़ी केंद्र पर चल रही इस मनमानी को लेकर जब महिला एवं बाल विकास विभाग की सीडीपीओ प्रियंका बुनकर से बात की गई तो वह बचाव में आई और बोली कि वहां पर जो शौचालय बना है वह आधा-अधूरा है और वहां पर पानी की कमी के चलते उसका उपयोग शौचालय के रूप में नहीं हुआ है | कुल मिलाकर अब सब बचाव में आ गए हैं और मामले में लीपापोती की जा रही है | ऐसे ही दो मामले बदरवास में भी सामने आए थे जब वहां पर कुछ लोगों के घरों पर बनाए गए शौचालयों में किराने की दुकान और रसोई बना ली गई थी | क्योंकि गांव में पानी की कमी के चलते शौचालय तो सरकारी मदद से बना लिए गए लेकिन उसका उपयोग शौच के लिए नहीं किया गया | जब आंगनबाड़ी केंद्र के शौचालय में रसोई चलाने का मामला सामने आया तो हमने यहां से इसे हटवा दिया है | शौचालय पूरा बना नहीं था इसलिए इस भवन में समूह के द्वारा खाना बनाया जा रहा था | समूह की संचालिका और आंगनाबाड़ी कार्यकर्ता को नोटिस भी दिया है | खाना बनाने के लिए दूसरे स्थान की व्यवस्था भी की है |


    Comments

    Leave a comment



    Similar Post You May Like

    Trends