फ्लाइट में हुआ कुछ ऐसा की यात्रियों के कान-नाक से बहने लगा खून

Medhaj news 20 Sep 18,16:41:29 Science & Technology
categor.jpeg

विमान में उस वक्त अफरातफरी मच गई, जब गुरुवार सुबह मुंबई से जयपुर जा रही फ्लाइट में 30 यात्रियों के नाक और कान से खून निकलने लगा। असल में क्रू मेंबर केबिन प्रेशर मेंटेन करने वाले स्विच को दबाना ही भूल गए थे, जिसके चलते विमान के ऊंचाई पर पहुंचने से लोग हवा की कमी महसूस करने लगे। देखते ही देखते कुछ लोगों के नाक और कान से ब्लीडिंग होने लगी, जबकि तमाम लोग ऐसे थे, जिन्हें सिर दर्द होने लगा।

जेट एयरवेज के प्रवक्ता ने कहा, 'मुंबई से जयपुर जा रही फ्लाइट को आज इसलिए वापस बुलाना पड़ा क्योंकि केबिन प्रेशर कम हो गया था। 166 यात्रियों और 5 क्रू मेंबर्स समेत विमान को मुंबई में सामान्य ढंग से उतारा गया। सभी यात्री सुरक्षित हैं। जिन यात्रियों ने नाक और कान से ब्लीडिंग की शिकायत की थी, उन्हें फर्स्ट ऐड मुहैया कराया गया है।

फ्लाइट में करीब 166 यात्री सवार थे | क्रू मेंबर्स की इस गलती के कारण ही करीब 30 यात्रियों के नाक और कान से खून निकलने लगा था | इसके अलावा कई यात्रियों को सिर दर्द की भी शिकायत है | सभी का इलाज मुंबई के एयरपोर्ट पर चल रहा है | ये फ्लाइट दोबारा करीब सुबह 10.15 बजे उड़ान भरेगी | बताया जा रहा है कि जिस दौरान ये फ्लाइट वापस हुई तब विमान करीब 14000 फीट की ऊंचाई पर था | बता दें कि जेट एयरेवज़ का B737 की 9W 697 फ्लाइट मुंबई से जयपुर के लिए रवाना हो रही थी | जिस दौरान केबिन क्रू वो स्विच ही ऑन करना भूल गया, जिससे ऑक्सीज़न मेंटेन नहीं हो पाया | हादसे के बाद DGCA ने क्रू-मेंबर्स को रोस्टर से हटा दिया है | साथ ही दो पायलटों को भी हटा दिया गया है |

जेट एयरवेज़ ने कहा है कि जो क्रू मेंबर्स इस फ्लाइट में थे, उन्हें रोस्टर से हटा दिया गया है | जब तक इस मामले की पूरी जांच नहीं हो जाती वे सभी ऑफ रोस्टर ही रहेंगे | सभी यात्रियों के लिए दूसरी फ्लाइट का बंदोबस्त किया जा रहा है | विमान में सवार यात्री दर्शक हाथी ने कहा, 'जैसे ही विमान उड़ा एसी खराब हो गया। इसके बाद एयर प्रेशर खराब हो गया और फिर ऑक्सीजन मास्क बाहर निकल आए। कुछ के नाक और कान से खून निकलने लगा तो कुछ ने सिरदर्द की शिकायत की। केंद्रीय विमानन मंत्रालय ने इस मामले को संज्ञान में लिया है और डीजीसीए को इस मामले पर तुरंत रिपोर्ट जमा करना के निर्देश दिए हैं।

ये भी पढ़े - सावधान...खतरे में आधार कार्ड का डेटाबेस,रिपोर्ट सही या झूठ

    मेधज न्यूज़ के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक करें। आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं।

    ...
    loading...

    Similar Post You May Like


    Trends