इस तरह करें अपने फेसबुक अकाउंट को सिक्योर |

medhajnews.in 23 Mar 18,17:03:39 Science & Technology
fb.jpg

TECH DESK | हाल ही में आई एक खबर ने सबको हैरान कर दिया। खबर ये है कि साल 2016 अमेरिकी प्रेसिडेंट इलेक्शन में फेसबुक के करोड़ों यूजर्स की जानकारी चोरी कर उससे छेड़छाड़ की गई थी। ऐसे में फेसबुक पर व्यक्तिगत जानकारी को लेकर फिर से बहस खड़ी हो गई है। हम आपको कुछ तरीकों के बारे में बताने जा रहे हैं, जिनकी मदद से आप अपने अकाउंट की जानकारी सुरक्षित रख सकते हैं।

'टू फैक्टर ऑथेंटिकेशन' : अगर आप अपने फेसबुक प्रोफाइल को सुरक्षित रखना चाहते हैं, तो सबसे पहले अपनी प्रोफाइल की सेटिंग्स में जाकर में 'टू फैक्टर ऑथेंटिकेशन' को इनेबल करें। इस सेटिंग को इनेबल करने पर अगर कोई आपका पासवर्ड पता भी कर ले, तो भी आपका प्रोफाइल एक्सेस नहीं कर पाएगा।

इन ऑप्शन को करें डिसेबल : आप अपने फेसबुक अकाउंट पर जाकर लोकेशन सेटिंग और फेस रिकॉग्निशन को ऑफ कर दें।

इसके बाद कोई नहीं देख पाएगा आपका पोस्ट : अगर आप नहीं चाहते कि आपके किसी भी पोस्ट या फोटो को कोई और देखे, तो Privacy ऑप्शन में जाकर 'Only me'आप्शन को इनेबल करें। इसके बाद आपके एक्टिविटी को दूसरे लोग नहीं देख पाएंगे। आप किसी पोस्ट को भी'Only me'आप्शन के जरिए दूसरों से हाइड कर सकते हैं।

प्राइवेसी सेटिंग्स को करें कस्टमाइज : अगर आप नहीं चाहते कि आपके अकाउंट, ईमेल, नंबर या पोस्ट को कोई देखे, तो आप अपने अकाउंट में जाकर फ्रेंड रिक्वेस्ट, फ्रेंड लिस्ट, ई-मेल, फोन नंबर की प्राइवेसी को अपनी सुविधा अनुसार सेट कर लें।

दूसरे सिस्टम पर न करें लॉग-इन : किसी दूसरे के सिस्टम से अपने फेसबुक को लॉग इन करने से बचें।

इससे पहले फेसबुक के खिलाफ व्हाट्सएप के को फाउंडर ब्रायन एक्टन ने ट्विटर पर ट्वीट करते हुए लिखा,‘ it is time’। ब्रायन एक्टन ने ट्विटर पर #deletefacebook हैशटैग का इस्तेमाल किया है, जो सोशल मीडिया पर ट्रेंड कर रहा है।

ये है मामला : ये विवाद फेसबुक डाटा लीक को लेकर है। कैंब्रिज ऐनालिटिका फर्म पर कथित तौर पर फेसबुक के करोड़ो यूजर्स के डाटा के साथ छेड़छाड़ करने का आरोप है। आरोप है कि फर्म ने 2016 अमेरिकी प्रेसिडेंट इलेक्शन को प्रभावित किया है। फेसबुक पर लग रहे आरोपों के बाद कंपनी ने एक डिजिटल फॉरेंसिक ऐजेंसी को हायर किया है।

विवाद से हुआ घाटा : फेसबुक डाटा लीक मामले में कंपनी का शेयर 9 फीसदी तक गि‍र गया, जि‍ससे महज 48 घंटे में फेसबुर को करीब 58,500 करोड़ रुपए का नुकसान हुआ।

फेसबुक का बयान : आरोपों का सामना कर रहे फेसबुक ने जारी बयान में कहा है कि उसे डाटा चोरी होने की कोई भी जानकारी नहीं था। कंपनी ने बताया है कि उसने ऐनालिटिका को अपने प्लेटफॉर्म पर बैन कर दिया है और मामले की जांच खुद जांच कर रहा है। #medhajnews.in

    मेधज न्यूज़ के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक करें। आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं।

    ...
    loading...

    Similar Post You May Like


    Trends

    Special Story