Snapchat की जगह Snapdeal का बहिष्कार कर रहे कुछ लोग, मिलते-झुलते नाम के कारण स्नैपडील को हुआ नुकसान

मेधज न्यूज  |  Science & Technology  |  17 Apr 17,15:01:41  |  
snapdeal_snapchat.jpg

हाल ही में स्नैपचेट के CEO ने एक ऐसा विवादित बयान दे डाला, जिसके बाद से ही स्नैपचेट की आलोचनाओं में घिरा हुआ है। स्नैपचेट CEO इवन स्पीगल ने कहा था कि उनका ‘एप’ भारत जैसे गरीब देश के लिए नहीं है। उनका मानना है कि भारत बिजनेस बढ़ाने के नजरिए से ‘बहुत गरीब’ देश है। उन्होंने कहा था कि ये ऐप केवल अमीरों के लिए है। ‘मैं इसे भारत और स्पेन जैसे गरीब देश में नहीं फैलाना चाहता।‘

उनके इस बयान से ही पूरे देशभर में स्नैपचैट बहिष्कार की बाढ़ सी आ गई। उनके इस बयान के एक दिन बाद ही रविवार को एप की रेटिंग ‘फाइव स्टार’ से 1 स्टार पर आ गई। लेकिन इस नुकसान का हिस्सेदार ‘स्नैपडील’ को भी बनना पड़ा।

इसे भी पढ़ें- आखिरकार भारत में लॉन्च हुए MOTO G5, जानिए क्या है इसके फीचर्स...

भारत की ई-कॉमर्स कंपनी स्नैपडील को स्नैपचैट से मिलता-जुलता नाम होने के कारण नुकसान उठाना पड़ रहा है।

जी हां, कुछ लोगों स्नैपडील एप को स्नैपचैट एप समझ बैठे। कई लोगों ने प्ले स्टोर पर जाकर स्नैपडील ऐप की रेंटिंग कम कर दी है। यही नहीं, इसी के साथ इसे अनइंस्टॉल भी कर दिया।  

गौरतलब है कि भारत में ‘स्नैपचैट’ बहिष्कार के बाद इसकी रेटिंग वन स्टार यानी 6099 रेटिंग आ रही है। वहीं ऑल वर्जन की रेटिंग ‘वन एंट हाफ स्टार’ यानी 9527 दिखने लगी।

    मेधज न्यूज़ के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक करें। आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं।


    loading...