अब पर्यावरण को नुकसान नहीं पहुंचाएगा प्लास्टिक, वैज्ञानिकों ने खोजा हल

medhaj news 17 Jan 18,18:48:47 Science & Technology
scientists_working.jpg

धरती पर बढ़  रहे पर्यावरण प्रदूषण को देखते हुए वैज्ञानिको ने कुछ ऐसी तकनीक  निकाली जिससे प्रदूषण का स्तर कम  सकेगा | वैज्ञानिकों के मुताबिक यदि प्रदूषण और पृथ्वी का ताप बढ़ाने वाले कार्बन डाईऑक्साइड को किसी उपयोगी वस्तु में बदला जा सके तो यह हमारे पर्यावरण के लिए सबसे फायदे का सौदा होगा। 

प्लास्टिक को पर्यावरण के लिए काफी नुकसानदेह माना जाता है। लेकिन वैज्ञानिकों ने अब एक ऐसी विधि विकसित कर ली है जो प्रकाश संश्लेषण की तरह क्रिया करती है और एथिलीन गैस के उत्पादन के लिए सूर्य की रोशनी, पानी और कार्बन डाई ऑक्साइड का उपयोग करती है।

एक ऐसा उत्प्रेरक जो कार्बन डाईऑक्साइड को बदलेगा एथिलीन में

वैज्ञानिकों ने एक ऐसा उत्प्रेरक तैयार किया है जो कार्बन डाईऑक्साइड को एथिलीन में बदलने में मदद कर सकता है। सामान्य प्लास्टिक के उत्पादन के लिए एथिलीन का इस्तेमाल किया जाता है। इस कार्य के केन्द्र में कार्बन डाईऑक्साइड घटाने वाली प्रतिक्रिया है। इस प्रयोग में कार्बन डाइऑक्साइड को बिजली के इस्तेमाल और रासायनिक प्रतिक्रिया के जरिए अन्य रसायन में बदला जाता है। इस पूरी प्रक्रिया में यह उत्प्रेरक मदद करता है।

क्या होगा फायदा 

इस क्रिया से ना सिर्फ वातावरण में बढ़ते कार्बन डाईऑक्साइड बल्कि प्लास्टिक के निर्माण में प्रयोग किए जा रहे जीवाश्म ईंधन की जरूरत भी कम की जा सकेगी। वैज्ञानिक फिल डी लुना ने कहा, यह बहुत उत्साहवर्धक है क्योंकि इससे हम भविष्य में ऊर्जा की बढ़ती मांग को पूरा कर पाएंगे। 

    मेधज न्यूज़ के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक करें। आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं।

    ...
    loading...

    Similar Post You May Like


    Trends

    Special Story