स्मार्ट नहीं बल्कि बेवकूफ बना रहा आपका ‘स्मार्टफोन’... जानें कैसे?

मेधज न्यूज  |  Science & Technology  |  9 May 17,14:38:26  |  
technology.jpg

स्मार्टफोन हमें हर छोटी-बड़ी बात का नोटिफिकेशन देता है। जिससे हमें बार-बार अपनी जेब या पर्स से फोन निकालकर चेक करने की आदत पड़ जाती है कि किसका और क्या नोटिफिकेशन आया है। ये दिन में इतनी बार होता है कि हम कई बार फोन वाइब्रेट नहीं भी होता है तब भी वाइब्रेशन महसूस करने लग जाते हैं और फोन चेक करते हैं।

वहीं जीपीएस आदि की वजह से हम कोई रास्ता भी याद नही रखते और न ही किसी दोस्त का नम्बर।  

स्मार्टफोन पर इंटरनेट का इस्तेमाल लाजमी-सी बात है। तकनीक ने हाथों में हमे हर चीज का हल परोस दिया है, जिसका हल दिमाग नहीं निकाल पाता। हर कोई स्मार्टफोन में इंटरनेट का इस्तेमाल कर हर छोटी-से-छोटी बात का हल निकाल लेते हैं, ऐसे में हो ये रहा है कि हमारा दिमाग चलना ही बंद होता जा रहा है। पहले हम दिमाग पर जोर डालते थे, लेकिन अब हाथों के जरिए स्मार्टफोन पर।

पहले बच्चे शाम को घर से बाहर जाकर लोगों के बीच खेलना पसंद करते थे, लेकिन अब वह अपने स्मार्टफोन से दूर ही नहीं जाना चाहते। इसके परिणामस्वरूप बच्चों में हर चीज को जानने की जिज्ञासा खत्म हो गई है, बच्चे एक्टिव नहीं रहे। बैठे-बैठे छोटी उम्र में ही मोटापे का शिकार हो गए।

    मेधज न्यूज़ के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक करें। आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं।

    loading...