बुजुर्ग दंपत्ति ने लगाई राष्ट्रपति से इच्छा मृत्यु की गुहार ..कारण जाने यहाँ

medhaj news 11 Jan 18,20:57:28 Special Story
elderly_couple.jpg

क्या अपने किसी को इच्छा मृत्यु की गुहार लगाते सुना है ,जो अपनी इच्छा अनुसार अपनी जिन्दगी ज्यगना चाहता हो ऐसे लोग इस दुनिया में नहीं मिलंगे | लेकिन आपको बता दे की ऐसी घटना वास्तविक में हो चुकी है ,जी हाँ यह फिल्म की कहानी नहीं सच है एक बुजुर्ग दम्पत्ति ने अपनी इच्छा मृत्यु के लिए गुहार लगाई |

मुंबई के चरनी रोड निवासी एक बुजुर्ग दंपति ने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को पत्र लिख कर इच्छामृत्यु की मांग की है। 86 वर्षीय नारायण लवाते जो 1989 में ही राज्य परिवहन निगम की सेवा से रिटायर हो चुके हैं, उन्होंने राष्ट्रपति को लिखे अपने पत्र में कहा है कि हम लोग निःसंतान हैं, किसी गंभीर बीमारी से ग्रसित भी नहीं हैं। फिर भी अब हमारे जीने का कोई मतलब नहीं है।

इच्छा मृत्यु का कारण 

यह मामला मुंबई के चारणी रोड के समीप स्थित ठाकुरद्वार में रहने वाले एक बुजुर्ग दंपति की है. जानकारी के मुताबिक, इरावती लवाटे (79) और उनके पति नारायण लवाटे (87) को किसी तरह की शारीरिक परेशानी नहीं है | इरावती स्‍कूल प्रिंसिपल रह चुकी हैं, जबकि नारायण पूर्व सरकारी कर्मचारी हैं |समाज में योगदान देने में सक्षम नहीं होने के डर से उन्होंने राष्ट्रपति को पत्र लिखकर यह मांग की है |

इरावती ने कहा, "शादी के पहले साल में ही हम लोगों ने बच्‍चा नहीं करने का फैसला कर लिया था. बुजुर्ग अवस्‍था में हम लोग नहीं चाहते कि कोई दूसरा हमारी जवाबदेही ले" |


 


 


 

    मेधज न्यूज़ के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक करें। आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं।

    ...
    loading...

    Similar Post You May Like


    Trends

    Special Story