जीवन की कुछ सच्ची बातें

Medhaj News 19 Jan 19,20:40:02 Special Story
p.jpg

जो जीवन को जिस तरह से जीता है वह वैसी ही परिभाषा बनाता है। ऐसी ही कुछ बातें जीवन की, जिनकी परिभाषा शायद हर किसी की परिभाषा से मिलती हैं वही व्यक्त की है मैंने यहाँ-



ग़म का वक्त भी उतना होता है,

जितने वक्त की खुशियाँ होती हैं।

हर जवाब का लफ्ज़ उतना होता है,

जितने लफ्ज़ का सवाल होता है।

लोंगो से मिलना बिछड़ना,

सिफ इत्तेफाक होता है।

जो हमें मिलता है

वही हमारा नसीब होता है।

कुछ कर दिखाने का ज़ज़्बा तो हर एक के पास होता है,

मगर जो कर दिखाता है वही शाबास होता है।

प्रकृति का हर फैसला हमारा हो, ये कब आसान होता है;

बेटी का माँ बाप से जुदा होना यही तो समाज होता है।

खुद तपकर बच्चों को पालना यही तो माँ का प्यार होता है,

ढाल बनकर सुरक्षा करना, यही पिता का कर्त्तव्य होता है ।

कभी-कभी आँसुओं को छिपा कर, रिश्तों को निभाना यही जीवन का सार होता है।

विश्वास किसी पर तब होता है, जब उसके द्वारा कोई काम होता है ।

कुछ खोकर कुछ पाना यही जीवन का विस्तार होता है ।



..............................प्रज्ञा शुक्ला .......................................

    Comments

    • Medhaj News
      Updated - 2019-01-19 21:31:14
      Commented by :Bikash Srivastava

      Very nice


    • Medhaj News
      Updated - 2019-01-19 20:37:50
      Commented by :Nisha

      Well done


    • Medhaj News
      Updated - 2019-01-19 20:36:56
      Commented by :Reality of life . Well said

      Well done


    • Medhaj News
      Updated - 2019-01-19 20:35:40
      Commented by :Bhavna Tiwari

      Superb...


    • Medhaj News
      Updated - 2019-01-19 18:06:28
      Commented by :Urmila raj

      Verry nice


    • Medhaj News
      Updated - 2019-01-19 17:34:12
      Commented by :Himanshu singh

      सोने की परख आग करती है, जब की इंसान की ‘मुसीबत’! ज़िन्दगी की अजीब कहानी है, दुःख वाली रात नींद नहीं आती और ख़ुशी वाली रात कौन सोता है


    • Medhaj News
      Updated - 2019-01-19 17:32:50
      Commented by :Siraj

      Very Nice !!


    • Medhaj News
      Updated - 2019-01-19 17:23:09
      Commented by :Kaushiki

      Well said Pragya


    • Medhaj News
      Updated - 2019-01-19 17:00:28
      Commented by :Donald trump

      Excellent poem Pragya ji , keep it up!!!


    • Medhaj News
      Updated - 2019-01-19 16:59:35
      Commented by :Harsh

      Nice one


    • Medhaj News
      Updated - 2019-01-19 15:47:31
      Commented by :Bhawana

      Very Nice!!


    • Load More

    Leave a comment


    Similar Post You May Like