Headline

"स्त्रियों-जियो खुद के लिए भी"

Medhaj News 17 Jan 19,16:11:45 Special Story
woman.jpg

निम्नलिखित पंक्तियों के माध्यम से मैंने उन स्त्रियों कि मनःस्थिति को चित्रित करने का प्रयास किया है जो अपनी पारिवारिक और दैनिक क्रियाकलापों और जिम्मेदारियों के बीच खुद के लिए समय ही नहीं निकाल पाती हैं अथवा खुद के लिए जीना ही भूल जाती हैं। आशा है कि मेरी तरह ही, अन्य स्त्रियाँ भी मेरी कविता से जुड़ा हुआ महसूस करेंगी और वह पुरुष वर्ग भी इससे सहमत होगा जो प्रतिदिन अपनी माँ, बहन, पत्नी, बहु और बेटियों को इन परिस्थियों से जूझता हुआ देखते हैं।



मेरी कविता पढ़कर अपनी प्रतिक्रिया अवश्य दें-



आज खुशियाँ हैं, दोस्ती है, प्यार है, इकरार है;



अपनों से सजा भरा पूरा परिवार है;



फिर भी दिल में कहीं न कहीं, यह कसक उठती हर बार है;



कि 'खुद के खुद से मिलन' के लिए, चंद लम्हों की दरकार है।



 



दिमाग कहे थोड़ा अपने लिए भी तो जी ले;



पर दिल कहे नहीं, तुझसे पहले तेरा परिवार है;



कभी-कभी खुद के लिए भी थोड़ा समय चाहिए होता है,



लेकिन कैसे? जब सामने जिम्मेदारियों का भंडार है।



 



दिल की दलीलों से दिमाग हार जाता हर बार है,



यह मान के कि ‘परिवार की खुशियाँ ही हमारे जीने का आधार है’;



हम स्त्रियाँ तो बस इसी में खुश हो जाती हैं कि,



हमारा पति और परिवार ही, हमारा सारा संसार है।



 



एक बेटी, पत्नी, बहु और माँ का किरदार निभाते-निभाते;



अपने अस्तित्व की पहचान से, हम अक्सर कर जाते इंकार हैं।



आखिर क्यों नहीं कह पाते हम? जब हमें कोई बात होती अस्वीकार है;



क्यों नहीं समझते कि ‘खुद के लिए भी जीना हमारा जन्मसिद्ध अधिकार है।’



 



जबकि हमारे अंतर्मन में भी, यह ध्वनि उठती हर बार है;



कि ‘हम हैं तो हमारे परिवार की खुशियाँ हैं’,



कि ‘हम ही तो हमारे परिवार का आधार है।’



हमें अभी भी उन बदलावों का इंतज़ार है;



जब स्त्रियाँ खुल कर कहें कि - ‘यह जीवन हमारा है',



और हमें अपनी इच्छा से जीने का पूर्ण अधिकार है।



------(भावना मौर्य)------


    Comments

    • Medhaj News
      Updated - 2019-01-18 14:45:43
      Commented by :Richa srivastava

      Bahut badhiya Di .... bahut achhi Kavita dil ko chhu gyi ... love it.


    • Medhaj News
      Updated - 2019-01-18 06:53:44
      Commented by :Ishan Joshi

      Excellently expressed & Wonderfully written.... very deep..... You also Keep going ahead, best of luck.


    • Medhaj News
      Updated - 2019-01-17 21:26:53
      Commented by :Vijay Kumar

      Beautiful lines....


    • Medhaj News
      Updated - 2019-01-17 21:25:29
      Commented by :Farheen

      Very nice


    • Medhaj News
      Updated - 2019-01-17 17:09:54
      Commented by :Absolutely fantastic,True expression of women in our country

      Absolutely fantastic True expression of women in our country Bhawna hats off to you


    • Medhaj News
      Updated - 2019-01-17 16:59:24
      Commented by :Shashank

      Beautiful lines


    • Medhaj News
      Updated - 2019-01-17 16:31:45
      Commented by :Prashant Rastogi

      Very True...


    • Medhaj News
      Updated - 2019-01-17 16:09:22
      Commented by :Lata Maurya

      Beautiful true lines well done di...


    • Medhaj News
      Updated - 2019-01-17 16:02:45
      Commented by :Vartika

      Beautiful lines....


    • Medhaj News
      Updated - 2019-01-17 15:55:21
      Commented by :Prasad

      Nice lines


    • Medhaj News
      Updated - 2019-01-17 14:08:57
      Commented by :Jyoti

      Heart touching lines.....


    • Medhaj News
      Updated - 2019-01-17 13:57:43
      Commented by :Rekha Tripathi

      दिल की गहराई से लिखी गई बहुत सुन्दर कविता


    • Medhaj News
      Updated - 2019-01-17 13:49:31
      Commented by :Sunil Sharma

      Bahut sundar vichar hai,Agar aisi soch har insaan ki ho to hamara desh bahut achchha ho jayega.


    • Medhaj News
      Updated - 2019-01-17 13:48:26
      Commented by :yogendra

      very heart touching lines..


    • Medhaj News
      Updated - 2019-01-17 13:33:17
      Commented by :Anil Yadav

      Absolutely right


    • Medhaj News
      Updated - 2019-01-17 12:03:08
      Commented by :Pragya Shukla

      Well written .....


    • Medhaj News
      Updated - 2019-01-17 11:54:24
      Commented by :Gunjan

      Nicely written as poetry. Keep writing!


    • Load More

    Leave a comment


    Similar Post You May Like