#World Mental Health Day: कभी-कभी रो लेना भी देता है आपको मानसिक शांति

Medhaj News 10 Oct 17,21:48:17 Special Story
mental.jpg

10 अक्टूबर को वर्ल्ड मेंडल हेल्थ मनाया जाता है... यानी मानसिक स्वास्थ्य दिवस। आज की भागती-दौड़ती जिंदगी में शारीरिक स्वास्थ्य के साथ-साथ मानसिक स्वास्थ्य का भी महत्व बढ़ जाता है। इस दिन का मकसद है लोगों को मानसिक स्वास्थ्य के मुद्दे पर जागरूक करना। आजकल की जीवनशैली में तनाव, अवसाद जैसी मानसिक बीमारियां तेजी से लोगों को अपना शिकार बनाती जा रही है।

इसका कारण क्या है? क्या आपने कभी सोचा है?

समय के साथ-साथ परिस्थियां भी बदलती हैं, आजकल का समय व्यस्तता भरा है। सुबह से लेकर शाम तक हमारी दिनचर्या सेट होती है। व्यस्त जिंदगी में हमें अपने लिए तक समय नहीं मिल पाता। हालांकि, खुद के लिए समय निकालना बेहद जरूरी है। व्यस्त दिनचर्या के कारण अपने लिए समय नहीं मिल पाता, जिसके परिणामस्वरूप धीरे-धीरे हम डिप्रेशन के शिकार हो जाते हैं। मानसिक शांति हर मनुष्य की जरूरत होती है।

आज हम आपको बताएंगे व्यस्त जिंदगी में भी कैसे पाएं मानसिक शांति-

-सबसे पहले काम, आराम और व्यायाम तीनों के लिए समय निकालें। तीनों के लिए समय निकालेंगे, तो खुद-ब-खुद खुद के लिए समय निकल ही जाएगा। व्यायम के जरिए मानसिक शांति प्राप्त होती है।

-अपनी सोच बदले। नेगेटिव की जगह पॉजिटीव सोच अपनी जिंदगी में लाएं। पॉजिटिव सोच से जिंदगी बेहतर होगी।

-कुछ न हो, तो समय निकालकर खुद का मनपसंद संगीत सुने, जिससे मन को काफी शांति पंहुचाती है।

-रोना भी एक प्रकार की शांति देता है, इसलिए कभी-कभी दिल भर आए तो रो लीजिए।

-स्पोर्ट्स, पेंटिंग्स, गार्डनिंग, टूरिज्म, म्यूजिक या रीडिंग जैसी हॉबिज को अपनाएं।  

    मेधज न्यूज़ के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक करें। आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं।

    ...
    loading...

    Similar Post You May Like