लॉयन ने दूसरे दिन का खेल खत्म होने के बाद बताया अपना ख़ास प्लान

ऑफ स्पिनर नाथन लॉयन ने कहा है कि गाबा मैदान में भारत के साथ जारी चौथे और आखिरी टेस्ट मैच में वह पिच पर पड़ी दरार पर गेंदबाजी करते हुए फायदा उठाना चाहते हैं। नाथन लॉयन अपना 100 वां टेस्ट मैच खेलते हुए सीरीज में 400 विकेट हासिल करना चाहते है। आज उन्होंने रोहित शर्मा को आउट करके अपना 397वां विकेट हासिल कर लिया है। 

लॉयन ने खेल खत्म होने के बाद कहा - पिच पहले दिन ही तीसरे दिन जैसी लग रही थी। उसमे कुछ दरारें नजर आ रही थी। इस लिए मैंने उन दरारो को निशाना बनाने की कोशिश की। मैं आमतौर पर टिम पेन के दाएं दस्ताने पर गेंद करता हूं, जोकि आफ स्टंप के बाहर तकरीबन एक फीट की दूरी पर है। इस विकेट पर अच्छी दरारें हैं, इसलिए उम्मीद करता हूं कि यहां से मुझे कुछ मदद मिल सकती है। लॉयन ने आगे कहा की ऋषभ मेरे खिलाफ आक्रामक शॉट खेलने की कोशिश करते हैं और मैं उनके खिलाफ गेंदबाजी करने को लेकर उत्साहित हूं। उनके साथ प्रतिस्पर्धा हमेशा से शानदार रहा है। लॉयन के माता-पिता भी गाबा में उनका 100वां टेस्ट मैच देख रहे हैं। लेकिन बायो बबल की वजह से वो अपने माता पिता से नहीं मिल सकते हैं।   



 


    Share this story