माली हालातों से लड़ता भारत का ‘उसैन बोल्ट’, आगे बढ़ने के लिए सरकार की मदद जरूरी...

Medhaj News 6 Sep 17 , 06:01:37 Sports
nisar_ahmd.jpg

दिल्ली की झुग्गी में रहने वाले एक युवक ने ऐसा कारनामा कर दिखाया है, जिसके बारे में सोचना अच्छे-अच्छे के लिए भारी पड़ जाता है। आजादपुर रेलवे स्टेशन की झुग्गियों में रहने वाले निसार ने दिल्ली स्टेट एथलेटिक्स प्रतियोगिता में गोल्ड मेडल जीता है। निसार ने 100 और 200 मीटर की स्प्रिंट प्रतियोगिता में ये मेडल हासिल किया है।

जरा रूकिये, केवल मेडल ही नहीं निसार ने अंडर 16 ऑल इंडिया के रिकॉर्ड को भी तोड़ डाला है। निसार ने 100 मीटर की रेस केवल 11 सेकंड में पूरी की है। वहीं इस रेस में पुराना रिकॉर्ड 11.02 सेकंड का था। वहीं, 200 मीटर की रेस में उन्होनें 22.08 सेकंड के साथ रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया है।

आपको बता दें, महज 16 साल की उम्र में यह मुकाम हासिल करने की रेस कई साल पहले ही शुरू हो गई थी। निसार का परिवार रेल की पटरी के किनारे की बस्ती में 10 बाई 10 के अक कमरे में रहता है। उसके पिता मोहम्मद हक इसी इलाके में रिक्शा चलाते हैं वहीं उनकी मां आस-पास के घरों में साफ-सफाई का काम करती है। निसार सरकारी स्कूल में पढ़ता है उसका यह टेलेंट उसके स्कूल के फिजिकल एजुकेशन के टीचर सुरेंद्र कुमार ने देखा और उसे आगे बढ़ने के लिए प्रोत्साहित किया। निसार ने बताया, “सर ने मुझे मोटिवेट किया एक्सरसाइज बताई यहां तक की दूध पीने के पैसे भी दिये। फिर छत्रसाल स्टेडियम में ट्रेनिंग के लिए सुनीता राय मैम के पास भेजा। यहां मेरी स्ट्रेंथ और बढ़ी, मैं रोज 6-6 घंटे एक्सरसाइज और प्रैक्टिस करता हूं।”  

निसार के परिवार का कहना है कि उनके बेटे के पास 35 से 36 इनाम घर पर है, लेकिन उसे ताकत कैसे मिलेगी? उसका परिवार उसे आगे नहीं बढ़ा सकता... उसे आगे बढ़ाने के लिए सरकार मदद करे, तो कुछ हो सकता है।

    मेधज न्यूज़ के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक करें। आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं।

    ...
    loading...

    Similar Post You May Like