कॉमनवेल्थ गेम्स में निशानेबाजों का शानदार प्रदर्शन जारी,गोल्ड कोस्ट में सोना-चांदी

medhaj news 13 Apr 18 , 06:01:38 Sports
logobroono.jpg

भारतीय निशानेबाजों ने बेलमोंट निशानेबाजी रेंज पर सोना बंटोरने का सिलसिला कायम रखते हुए इस वर्ग में पहला और दूसरा स्थान हासिल किया।भारत की स्टार शूटर तेजस्विनी सावंत ने अपने अचूक निशाने से देश को 15वां गोल्ड मेडल दिलाया | उन्होंने यह पदक महिलाओं की 50 मीटर राइफल थ्री पोजिशन में हासिल किया | इन कॉमनवेल्थ खेलों में यह उनका दूसरा पदक है | इससे पहले तेजस्विनी ने भारत को 50 मीटर राइफल प्रोन में सिल्वर मेडल जीता था |
37 बरस की तेजस्विनी ने राष्ट्रमंडल खेलों का रिकार्ड बनाते हुए फाइनल में 457-9 स्कोर किया जबकि मुद्गल का स्कोर 455-7 रहा। स्काटलैंड का सियोनेड मैकिनटोष को कांस्य पदक मिला। तेजस्विनी का यह सातवां राष्ट्रमंडल पदक है जिसने 2006 में दो स्वर्ण जीते थे। इससे पहले 2010 में दो रजत और एक कांस्य जीता था जबकि मौजूदा खेलों में कल 50 मीटर राइफल प्रोन में रजत पदक जीता।
मुद्गल पहली बार इन खेलों में भाग ले रही है और उसका यह पहला पदक है। वह प्रोन में 16वें स्थान पर रही थी। क्वालीफिकेशन में मुद्गल ने राष्ट्रमंडल क्वालीफाइंग रिकार्ड तोड़ते हुए 589 ( नीङ्क्षलग में 196, प्रोन में 199 और स्टैंडिंग में 194) स्कोर किया था । वहीं तेजस्विनी 582 ( 194, 196, 192 ) तीसरे स्थान पर रही थी। तेजस्विनी ने इससे पहले 2010 में म्युनिख विश्व चैम्पियनशिप में 50 मीटर राइफल प्रोन में विश्व रिकार्ड की बराबरी की थी ।

 

    मेधज न्यूज़ के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक करें। आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं।

    ...
    loading...

    Similar Post You May Like


    Trends