आप धोनी की अहमियत का आकलन नहीं कर सकते: सुनील गावस्कर

Medhajnews 17 Jan 19 , 06:01:39 Sports
0.11.jpg

नई दिल्ली। पूर्व भारतीय कप्तान सुनील गावस्कार ने कहा कि लगातार रन नहीं बनाने के बावजूद महेंद्र सिंह धोनी की टीम में अहमियत का आकलन नहीं किया जा सकता और कृपया इस खिलाड़ी को छोड़ दीजिए। धोनी ने एडिलेड में दूसरे एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैच में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मैच विजयी अर्द्धशतकीय पारी खेली जिसमें उन्होंने अंतिम ओवर में छक्का भी जड़ा, जो उनकी पारियों का ट्रेडमार्क रहा है। उनकी इस पारी ने उन पर से दबाव भी कम किया।





गावस्कर ने 'इंडिया टुडे' से कहा कि मैं प्रार्थना करता हूं कि इस भद्र खिलाड़ी को अकेला छोड़ दिया जाए और वह अच्छा करना जारी रखेगा। वह भी जवान नहीं हो रहा इसलिए कम उम्र में जो निरंतरता रहती है, वो निश्चित रूप से नहीं होगी और आपको इसे सहना होगा। भारतीय क्रिकेट में इस समय 2 बार के विश्व कप विजेता पूर्व कप्तान का भविष्य सबसे ज्यादा चर्चित विषय है लेकिन गावस्कर को लगता है कि वे बेहतर के हकदार हैं।





इस महान बल्लेबाज ने कहा कि इस थोड़ी-सी अनिरंतरता को आपको सहना होगा लेकिन वे टीम के लिए अब भी काफी अहम हैं। आप उनकी अहमियत का आकलन नहीं कर सकते। वह लगातार गेंदबाजों को बताता रहता है कि आप विशेष गेंद फेंको, बल्लेबाज क्या करने की कोशिश कर रहा है। उसे महसूस हो जाता है कि बल्लेबाज क्या सोच रहा है? बल्लेबाज क्या करने की कोशिश कर रहा है? क्या वह किसी तरह का शॉट लगाने की कोशिश कर रहा है?





सुनील गावस्कर ने कहा कि इस तरह की चीजों में धोनी गेंदबाजों की मदद करता है और निश्चित रूप से फील्ड सजाने में भी, क्योंकि विराट डीप में काफी अहम होता है, तब अंतिम ओवरों में वह डाइव करके 2 रन बचाने की कोशिश करता है, डीप में शानदार कैच लेता है। मुझे लगता है कि विराट के लिए गेंदबाजों के साथ बात करना या स्क्वायर क्षेत्ररक्षकों के साथ सांमजस्य बिठाना संभव नहीं है। यहीं पर विराट को धोनी पर पूरा भरोसा होता है। 


    Comments

    • Medhaj News
      Updated - 2019-01-17 17:26:16
      Commented by :Gunjan

      Sunil Gawaskar said it right.


    • Load More

    Leave a comment


    Similar Post You May Like